दिल्‍ली के बाद हैदराबाद यूनिवर्सिटी में भी ABVP की हार

भाजपा और आरएसएस की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) को हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र संघ चुनावों में भी हार का सामना करना पड़ा है। यहां सभी सीटों पर एबीवीपी हार गई है जबकि विपक्षी मोर्चा अलायंस फॉर सोशल जस्टिस (एएसजे) को सभी सीटों पर जीत मिली है। इससे पहले दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनावों से भी एबीवीपी को दो सीटों पर हार का सामना करना पड़ा था। वहां कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद पर जीत मिली थी।

हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव शुक्रवार (22 सितंबर) को हुए थे और देर रात उसके नतीजे आए। चुनाव जीतने वालों में एएसजे के तीन दलित, दो मुस्लिम और एक आदिवासी उम्मीदवार हैं। अलायंस फॉर सोशल जस्टिस दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक छात्रों के साथ-साथ लेफ्ट संगठनों का एक गठबंधन है। हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में चुनाव उस वक्त हुए हैं जब साल भर पहले ही दलित छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी सुर्खियों में थी।

अलायंस फॉर सोशल जस्टिस के बैनर तले अंबेडकर स्टूडेन्ट्स यूनियन के श्रीराग पोइकदन हैदराबाद सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी छात्र संघ के नए अध्यक्ष चुने गए हैं।

श्रीराग ने एबीवीपी केकरण पलसानिया को 170 वोटों से हराया। महासचिव पद पर स्टूडेन्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के आरिफ अहमद की जीत हुई है। उन्होंने एबीवीपी के किरण कुमार को 409 वोटों से हराया जबकि मुस्लिम स्टूडेन्ट्स फेडरेशन के मुहम्मद आशिक ने संयुक्त सचिव पद पर एबीवीपी उम्मीदवार रानी को 281 वोटों से हराया है।

Back to top button