छत्तीसगढ़

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने शुरू किया मिशन साहसी

छात्राओं को आत्मनिर्भर बनाने का लिया संकल्प

राजशेखर नायर
धमतरी: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद धमतरी द्वारा छात्राओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए “मिशन साहसी”का आयोजन किया जा रहा है, जिसकी शुरुआत ओरेकल पब्लिक स्कूल धमतरी से की गई। उद्घाटन समारोह में विद्यालय के प्राचार्य सोमन साहू ने विद्यार्थी परिषद को बधाई देते हुए कहा कि छात्राओं की आत्मरक्षा को लेकर विद्यार्थी परिषद का सराहनीय प्रयास है और आज के समय मे बहुत ही जरूरी है।

वर्तमान समय में देश मे महिलाओं की जो स्थिति है उन सब से सामना करने के लिए शुरू से ही छात्राओं को शसक्त बनाना आवश्यक है। एबीवीपी प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रुपाली सोनी ने कहा की महात्मा गांधी ने कहा था कि मैं भारत को सही मायनों में उस दिन स्वतंत्र मानूँगा जिस दिन इस देश की नारी आधी रात को भी सुरक्षित बाहर निकल सकेगी।

आखिर कब तक हम हाथों में मोमबत्ती लिए कैंडल मार्च निकालेंगे। वर्तमान समय मे महिलाओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार का सामना करने के लिए एबीवीपी “मिशन साहसी” के माध्यम से छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दे कर छात्रो को निर्भर नही निडर बनाने का कार्य कर रही है। जिला संयोजक वेदप्रकाश साहू ने कहा कि एबीवीपी द्वारा पूरे देश में छात्राओं की आत्म रक्षा को लेकर प्रत्येक विद्यालय और महाविद्यालय परिसर में कक्षा 9वी से सभी वर्ग के छात्राओं यह आत्म रक्षा का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

इसी क्रम में धमतरी नगर में 13 नवम्बर से 19 नवम्बर तक विद्यालय तथा महाविद्यालय में यह प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से पूजा यादव, लीशा चुगवानी, नीलिमा सिन्हा, लीशा, सोनाली, रोशनी, योगिता, वंदना कोसरिया, जया कोसरिया, चंदराम साहू, ओमेश यादव, विकास राठी, विक्की अग्रवाल, धनेन्द्र साहू, प्रकाश राजपूत उपस्थित थे।

Tags
Back to top button