छत्तीसगढ़राजनीति

सात सूत्रीय मांगों को लेकर विद्यार्थी परिषद् ने घेरा रविवि

रायपुर : बी. कॉम प्रथम वर्ष के परीक्षा परिणाम आने से नाराज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने आज पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय का घेराव किया. सात सूत्रीय मांगों को लेकर सैकड़ों की संख्या में घेराव करने पहुंचे विद्यार्थी परिषद् ने कुलपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झूमाझटकी भी हुई. एबीवीपी का आरोप है कि विश्वविद्यालय प्रशासन की आलस के चलते इस बार बच्चों का भविष्य खराब हुआ है. एबीवीपी के रायपुर जिला संयोजक का आरोप है कई विद्यार्थियों को शून्य अंक दिया गया हैं. जिला संयोजक की माने तो आरंग के एक कॉलेज के 250 विद्यार्थियों में महज 20 बच्चे से पास हुए हैं. उनका आरोप है कि उत्तर पुस्तिका की सहीं तरीके से जांच नही की गई हैं. इसके अलावा विद्यार्थी परिषद् ने सत्र 2016-2017 के बच्चों को लैपटॉप और टेबलेट नही मिलने का आरोप लगाया है. परिषद् का आरोप है की कई कॉलेज के विद्यार्थियों को अभी तक टेबलेट और लैपटॉप के पैसे नही दिए गए हैं. एबीवीपी ने इसमें भी विश्वविद्यालय प्रबंधन पर लापरवाही करने का आरोप लगाया है. परिषद् ने अपनी सात सूत्रीय मांगों का ज्ञापन विश्वविद्यालय प्रबंधन को सौपकर जल्द ही मांगों को पूरी करने की अपील की हैं. वहीँ मांग पूरा नही होने की स्थिति में उग्र आन्दोलन करने की चेतावनी दी है. वहीँ विश्वविद्यालय प्रबंधन ने एबीवीपी की मांगों को कुलपति के पास भेजकर उसमे विचार करने का आश्वसन दिया हैं.
क्या हैं सात सूत्रीय मांग
1. बी.कॉम प्रथम वर्ष के पेपर का एक बार फिर जांच हो
2. सत्र 2016-2017 के छात्रों के खाते में जल्द ही टैबलेट और लैपटॉप का पैसा भेजा जाये
3. नवापारा के सेठ फूलचंद कॉलेज के 18 विद्यार्थियों को शून्य अंक दिया गया ऐसे में इसकी जांच की जाये
4. इसी कॉलेज के बी.एड चौथे सेमेस्टर के 74 विद्यार्थियों को एक विषय में शून्य अंक दिया गया उसकी भी दोबारा जांच की जाये.
5. बी.ए और बीएससी पहले और दुसरे साल का जल्द ही परीक्षा परिणाम घोषित किया जाए
6. बीकॉम प्रथम और द्वितीय वर्ष के परीक्षा के दौरान एक प्रश्न गलत पूछा गया था उसमे बोनस अंक दिया जाए
7. सभी छात्रों की छात्र वित्तीय जल्द से जल्द दी जाए

Tags
Back to top button