राष्ट्रीय

गोपनीय रिपोर्ट के अनुसार, भीड़ में पथराव कर रहे तमाम लोग बांग्लादेशी घुसपैठिए

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने गृह सचिव को भेजी गोपनीय रिपोर्ट

नई दिल्ली: नागरिक संशोधन अधिनियम से सबसे ज्यादा प्रभावित बांग्लादेशी घुसपैठियों का एक संगठित समूह का हिंसा का पीछे हाथ है। सीलमपुर में हिंसा शुरू करने में आपराधिक अतीत वाले ऐसे कई बांग्लादेशियों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। कुछ सशस्त्र घुसपैठियों ने मास्क पहनकर राज्य की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

यह दावा दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक द्वारा केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला को सौंपी गई एक गोपनीय रिपोर्ट में कही गई है. सीलमपुर हिंसा में कई बांग्लादेशी घुसपैठियों के शामिल होने की आशंका जताई गई है। कहा गया है कि भीड़ में तमाम बांग्लादेशी घुसपैठिए थे जो पथराव कर रहे थे।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, दो दिन से शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन चल रहा था लेकिन मंगलवार (17 दिसंबर) को दोपहर दो बजे 10-15 लोगों के एक समूह ने एक स्कूल बस को निशाना बनाया।

ऐसे बांग्लादेशी सीलमपुर और जाफराबाद के अलावा सरिता विहार, शाहीन बाग, जाकिर नगर, कल्याणपुरी, त्रिलोकपुरी, शास्त्री पार्क, गाजीपुर मंडी क्षेत्र के साथ गाजियाबाद से सटे खोड़ा में झुग्गियों में रहते हैं। रिपोर्ट में इन इलाकों में सख्त गश्त और सुरक्षा व्यवस्था की वकालत की गई है।

दावा
* दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने गृह सचिव को भेजी गोपनीय रिपोर्ट
* 10-15 लोगों के समूह ने स्कूल बस को निशाना बनाया

Tags
Back to top button