छत्तीसगढ़

6 साल से फरार लूट का आरोपी गिरफ्तार, आरोपी से एक देशी कट्टा व एक जोड़ चांदी का पायल जप्त

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

रायगढ़: वर्ष 2014 में थाना सरिया अंतर्गत घटित लूट के वारदात के फरार आरोपी को सरिया पुलिस द्वारा आखिरकार 6 साल बाद सटिक सूचना तंत्र से मुखबिर सूचना पर उड़ीसा से गिरफ्तार कर लाई । आरोपी पिछले 6 सालों से अपनी पहचान छुपाकर उड़ीसा में लुक-छुप कर रहा था। आरोपी से घटना में प्रयुक्त एक देशी कट्टा व लूट के समय बंटवारे में मिले एक चांदी का पायल जप्त किया गया है । एसडीओपी गरिमा द्विवेदी द्वारा आज थाने में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोपी के गिरफ्तार होने की जानकारी प्रेस को दी गई है।

जानकारी के मुताबिक 26.03.2014 को सरिया निवासी अरुण कुमार बेहरा पिता मनोहर लाल बोहरा उम्र 30 वर्ष के घर तीन अज्ञात सशस्त्र लुटेरे घुसकर अरुण कुमार बेहरा व उसके परिवार को बंधक बनाकर सोने चांदी के आभूषण, एक मोबाइल, एटीएम कार्ड व मोटरसाइकिल पैशन प्रो जुमला कीमती 60,000 रूपये को लूट कर भाग गए थे। प्रार्थी अरुण कुमार बेहरा की रिपोर्ट पर थाना सरिया में अपराध क्रमांक 55/14 धारा 458, 394, 342 आईपीसी 25 आर्म्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

प्रकरण की विवेचना आरोपियों की सुरागरसी में लूटी हुई मोबाइल के कॉल डिटेल लोकेशन के आधार पर प्रकरण में दो आरोपी अशोक साहू तथा पिंटू साहू उर्फ़ रंजीत कुमार साहू को गिरफ्तार कर उनके मेमोरेंडम पर लूटी हुई मोटरसाइकिल, एटीएम कार्ड, घटना में प्रयुक्त चाकू तथा ब्लैक पर्पल कलर का बजाज डिस्कवर ऑडी 17 B 5819 को जप्त किया गया था । आरोपियों ने पूछताछ में उनके साथ आरोपी पितांबर विश्वाल उर्फ सुरेंद्र कोलता को भी घटना में शामिल होना बताया गया था।

सरिया पुलिस आरोपी की पतासाजी में उड़ीसा के कई स्थानों पर दबिश दिया गया था । आरोपी गिरफ्तारी के डर से लुक छिप रहा था जिसे मुखबीर सूचना पर दिनांक 28.10.2020 को उसके घर से हिरासत में लेकर थाना लाया गया । आरोपी से पूछताछ में अपराध करना कबूल किया है तथा बीते 6 सालों में उड़ीसा के विभिन्न शहरों में अपनी पहचान छुपा कर मजदूरी काम करना बताया है । आरोपी से घटना में प्रयुक्त एक देशी कट्टा व बटवारा में मिले एक जोड़ चांदी का पायल जप्त किया गया है ।

सरिया पुलिस आरोपी पितांबर विश्वाल उर्फ सुरेंद्र कोलता पिता गंगाधर विश्वाल उम्र 38 वर्ष निवासी ग्राम कुसुड्ड़ा थाना सोहेला जिला बरगढ़ उड़ीसा को आज रिमांड पर भेज रही है, जिसके विरुद्ध पूरक चालान पृथक से पेश किया जावेगा। पूर्व में गिरफ्तार दोनों आरोपियों को माननीय न्यायालय से सजा हुई है । प्रकरण का खुलासा में थाना प्रभारी निरीक्षक डी.के मारकंडे एवं स्टाफ की सराहनीय भूमिका रही है ।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button