छत्तीसगढ़

पीड़िता महिला की शिकायत पर शाम तक कार्यवाही कर मुझे अवगत कराएं-गृहमंत्री

मंत्री ताम्रध्वज साहू का आज रहा मुंगेली दौरा,विभागीय समीक्षा बैठक की पत्रकारवार्ता

मोतीलाल शर्मा की न्यूज़
मुंगेली:
प्रदेश के गृह,पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू मुंगेली दौरे पर पहुंचे। उन्होंने कलेक्ट्रेट परिसर में विभागीय कार्यों की समीक्षा बैठक ली उसके बाद पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने मॉडर्न पुलिसिंग पर जोर देते हुए कहा कि पुलिस के व्यवहार में सुधार हो ताकि लोगों की शिकायतें पुलिस के प्रति कम हो सके। वहीं उन्होंने सूदखोरी, भयादोहन,जुआं,सट्टा,नशे के कारोबार पर नकेल कसने के निर्देश दिए।

इसी तरह लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने जिले में चल रहे विभागीय कार्यो का हाल जाना और जीर्णशीर्ण सड़कों के रखरखाव, मरम्मत को समय सीमा में पूरा करने के निर्देश दिए।

पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने भाजपा सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उनके 15 साल के कार्यकाल की भरपाई धीरे-धीरे ही होगी।वहीं आगामी दिनों में अयोध्या मसले पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमेशा शांति का वातावरण रहा है और उम्मीद है कि इस बार भी अदालती फैसले के बाद प्रदेश में कोई हलचल नहीं होगी। फिर भी प्रदेश सरकार के तैयार रहने की बात कहते हुए उन्होंने आम लोगों से भी अपील की कि वे कोर्ट के फैसले को माने और शांति व्यवस्था कायम रखें।

बहुचर्चित मुंगेली के लछनपुर में रहने वाली शिक्षिका सरिता भारद्वाज को पिछले तीन-चार महीनों से 13 सूदखोर कुछ राजनैतिक रसूखदार ने मानसिक, शारिरिक परेशान कर रखा है। मगर सूदखोरों में कुछ सत्तासीन राजनैतिक पदाधिकारी के होने के चलते जगह-जगह गुहार लगाने के बाद भी उन्हें न्याय नहीं मिल रही। बता दें शिक्षका एवं उसके पति ने चार लाख कर्ज के एवज में चार गुना रकम सोलह लाख रुपए सूदखोरों ने ऐंठ लिए बावजूद शिक्षिका सरिता भारद्वाज एवं पति जो कि गंभीर बीमारी से ग्रसित है रातदीन जीना दूभर कर दिया गया है।

महिला ने गृह मंत्री के समक्ष भी अपनी समस्या रखी तो उन्होंने तत्काल मुंगेली प्रभारी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को इस गंभीर मामले में आज ही शाम तक सूक्ष्मता से पड़ताल कर कार्यवाही से अवगत कराने कहा है। वैसे पीड़ित महिला ने एक दिन पहले ही प्रदीप गुप्ता आई जी बिलासपुर को ज्ञापन सौंपकर मुंगेली एसपी सीडी टंडन की कार्यशैली पर ही संदेह व्यक्त किया था और उन पर मिलीभगत का आरोप लगाया था लेकिन आज मुंगेली पुलिस अधीक्षक अवकाश पर होने के चलते उपस्थित नही थे।

वहीं इन सबसे से परे एक मामला सुनने में आया कि पिछले पखवाड़े दिवाली के दौरान मुंगेली सिटी कोतवाली द्वारा सट्टा, जुआं, शराब के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ रखा था जिसके बाद कुछ नामीगिरामी,रसूखदारों, समाजसेवी, नेताओ द्वारा एक शहर भीतर रिहायशी इलाके में जुआं खेलने खाली मकान भाड़े पर ले रखा था और जुआं की शिकायत सभ्रांत मोहल्लेवासियों द्वारा पुलिस को की गई तो सिटी कोतवाली पुलिस ने दबिश दी थी।जिससे भी आक्रोशित कुछ विघ्नसंतोषी लोगो ने सिटी कोतवाली पुलिसिंग लचर करने की मंशा से शिकायत करना चाहे मगर वहां उपस्थित जनसैलाब ने शहर की अमन,चैन,कानून व्यवस्था तंदुरुस्त रखने पुलिस की कार्यप्रणाली को सही बताया।

Tags
Back to top button