छत्तीसगढ़

कस्टम मिलिंग नियमों का पालन नहीं करने पर सोलह राइस मिलर्स पर हुई कार्रवाई

ब्यूरो रिपोर्ट :- रोशन सोनी

अम्बिकापुर:

शासन के निर्देशानुसार खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान का कस्टम मिलिंग हेतु पंजीयन पश्चात भी जिले में 16 राईस मिलर्स द्वारा कस्टम मिलिंग कार्य नहीं करने पर कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर द्वारा राईस मिलर्स की जाँच के पश्चात छत्तीसगढ़ कस्टम मिलिंग चावल उपार्जन आदेश 2016 के तहत जप्ती तथा विद्युत विच्छेद करने की कार्यवाही की गई है।

कलेक्टर ने बताया है कि शासन के निर्देशों के अनुरूप कार्य नहीं करने पर जिले के 7 राईस मिलर्स से धान एवं चावल आदि जप्त करने तथा 9 राईस मिलर्स का विद्युत कनेक्शन विच्छेद कर दिया गया है।

उन्होंने स्पष्ट किया है कि नियम विरूद्ध कार्य करने वाले राईस मिलर्स के खिलाफ समय-समय पर कार्यवाही की जाएगी।  

खाद्य अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जाँच पश्चात मेसर्स शीतला माँ एग्रो राईस मिल भिट्ठीकला से 624.40 क्विंटल धान, 17760.10 क्विंटल चावल एवं 14 क्विंटल खंडा जप्त की गई है।

इसी प्रकार मेसर्स एस.आर. इण्डस्ट्रीज बटवाही में 700 क्विंटल धान एवं 250 क्विंटल चावल, मेसर्स शारदा राईस मिल अम्बिकापुर से 3130.10 क्विंटल धान एव 2390.28 क्विंटल चावल, मेसर्स जय माता दी गुड एवं खण्डसारी राईसमील से 160 क्विंटल धान,

मेसर्स जय अम्बे राईस मिल से 520 क्विंटल धान एवं 30 क्विंटल चावल, मेसर्स जय अम्बे एग्रो टेक से 320 क्विंटल धान एवं 625 क्विंटल चावल, मेसर्स शिवम राईस मिल कण्ठी से 1200 क्विंटल धान एवं 25 क्विंटल चावल की जप्ती की गई है। 

कस्टम मिलिंग हेतु पंजीयन नहीं करने वाले राईस मिल मेसर्स बनभौरी राईस मिल अम्बिकापुर, मेसर्स जय अम्बे राईस मिल कान्तिप्रकाशपुर, जय अम्बे एग्रो राईस मिल कांतिप्रकाशपुर, लक्ष्मी राईसमील कण्ठी, मेसर्स माँ दुर्गा राईस मिल दरिमा,

मित्तल राईस मिल कण्ठी, शिवम राईस मिल कंठी, मेसर्स जय बंजारी ट्रेडिंग प्रतापगढ़ सीतापुर,सांवरिया राईस इण्डस्ट्रीस अम्बिकापुर का विद्युत कनेक्शन विच्छेद कर दिया गया है। 

Tags
Back to top button