छत्तीसगढ़

‘विश्वसनीय पुलिस और मजबूत पुलिस’ की कार्य योजना पर अमल शुरू

पुलिस अधीक्षक ने विशेष दरबार लगाकर सुनी पुलिस अधिकारीयों/कर्मचारियों की समस्याएं

आलोक मिश्रा

बलौदा बाजार।

मुख्यमंत्री, गृहमंत्री के मंशानुरूप एवं पुलिस मुख्यालय से विश्वसनीय पुलिस और मजबूत पुलिस की कार्य योजना पर जारी गाईड लाईन के मुताबिक आज पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा पुलिस परिवारों के समस्याओं के समाधान के लिये पुलिस नियंत्रण कक्ष बलौदाबाजार में विशेष दरबार लेकर पुलिस परिवार के समस्याओं को लेकर उनसे बातचीत कर समस्यायें सुनी ।

ज्ञात हो कि पुलिस मुख्यालय द्वारा विजन डाक्युमेंट तैयार कर पुलिस कर्मियों के समस्याओं का निदान इकाई /रेंज स्तर पर और पुलिस मुख्यालय स्तर पर किये जाने निर्देशित है पुलिस अधिकारी कर्मचारी को अपनी समस्या के निदान के लिये न्यायालय के शरण नहीं जाने पडें़ इस हेतु जारी गाईड लाईन के मुताबिक बलौदाबाजार पुलिस परिवार की समस्याओं के निदान के लिये विशेष दरबार आयोजित किया गया।

इस दौरान पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के पास जिले के विभिन्न थाना चौकी से आये लगभग 100 पुलिस अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित हुये जिसमें से 31 पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों ने व्यक्तिगत उपस्थित होकर अपनी समस्याओं को लेकर अलग-अलग प्रार्थना पत्र दिया। जिसमें 29 आवेदक ने अपने स्थानांतरण को लेकर, 02 आवेदकों ने अन्य समस्याओं को लेकर निवेदन किया।

पुलिस परिवार की समस्याओं को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुये, इन आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही करते हुये 07 आवेदन को उचित पाये जाने कर्मचारियों का स्थानांतरण किया गया जिसमें (01.) आर. 168 जेठूराम मनहरे थाना कसडोल से भाटापारा (ग्रा.), (02) आर. 931 कृष्ण कुमार राय को रक्षित केन्द्र से पुलिस चौकी करहीबाजार, (03) आर. 739 विरेन्द्र कुमार सिन्हा को रक्षित केन्द्र से थाना सिमगा, (04) आर. 629 देव प्रसाद को गिधपुरी से थाना पलारी, (05) आर. 255 सुरेन्द्र कुमार धु्रव को थाना सुहेला से रक्षित केन्द्र, (06) आर. 405 चन्द्रमोहन कुर्रे को रक्षित केन्द्र से थाना कसडोल एवं (07) आर. 570 दिनेश गर्ग को रक्षित केन्द्र से थाना पलारी किया गया ।

03 आवेदन अन्य जिले में स्थानांतरण के लिये है जिनका निराकरण हेतु वरिष्ट कार्यालय को भेजा जा रहा है। अन्य 19 आवेदन को समीक्षा उपरांत निर्णय लिये जाने का निर्णय पुलिस अधीक्षक ने किया। पुलिस अधीक्षक ने अन्य समस्याओं से संबंधित आवेदन-पत्रों का परीक्षण कर 02 दिवस के भीतर नियमानुसार निराकरण करने संबंधित शाखाओं के अधिकारियों को निर्देशित किया।

पुलिस अधीक्षक ने इस दौरान जिले में अतिशीघ्र सहकारी पुलिस बैंक खोले जाने की बात कही और बताया कि सहकारी पुलिस बैंक कर्मचारियों के लिए बहुत ही अच्छी योजना है, इस बैंक में कर्मचारीयों का एकाउन्ट जिरो बैलेंस में ही खोल दिया जाता है। इस योजना के शुरू होने से कर्मचारियों को किसी बैंक का चक्कर काटना नहीं पड़ेगा उन्हे इलाज, शादी, घरेलू खर्च आदि के लिये आसानी से मदद मिल जायेगी इस बैंक के माध्यम से बहूत ही कम ब्याज दर पर लोन लिया जा सकेगा।

इस दौरान दरबार मे पुलिस मुख्यालय पुलिस कल्याण समिति द्वारा 17 बिन्दु पर मांगे गये सुझाव व प्रस्ताव पर उपस्थित अधिकारीयों कर्मचारियों से चर्चा कर सुझाव मांगे गये जिन्हे वरिष्ठ कार्यालय को भेजा जा रहा है जैसे भत्ते की राशि बढ़ाने , 03 स्तरीय प्रमोशन (आरक्षकों हेतु) पुरानी पेंशन योजना लागू करना एवं सप्ताहिक अवकाश आदि।

इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय ध्रुव, डीएसपी मुख्यालय विनोद मिंज, एसडीओपी भाटापारा के.बी. दिवेदी, एसडीओपी बिलाईगढ़ संजय तिवारी, एसडीओपी बलौदाबाजार राजेश जोशी, रक्षित निरीक्षक हेमंत टोप्पो सहित पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समस्त शाखाओं के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
‘विश्वसनीय पुलिस और मजबूत पुलिस’ की कार्य योजना पर अमल शुरू
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button