छत्तीसगढ़

विलुप्त हुए पुरानी हटरी के 36 दुकान, 90 चबूतरा, 12 पसरा वाले मामले में जल्द होगी कार्यवाही

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

रायगढ़: कलेक्टर भीम सिंह के दिशा निर्देश पर जिस तरह नगर निगम आयुक्त व उनकी टीम काम कर रही है उससे यह प्रतीत हो रहा है रायगढ़ शहर के ही नहीं वरन पुरे जिले के दिन बहुरेंगे……. शहर के वार्ड क्रमांक 17 के पुरानी हटरी में यदि कार्यवाही होती है बिना अनुमति के निर्माणाधीन दुकान… तीन मंजिला भवन…. दुकान के ऊपर घर बने मिलेंगे…… शहर के बीचोबीच यह होता रहा और पूर्व के निगम अधिकारी….. जनप्रतिनिधि नीरो की मानिंद बंशी बजाते रहे…. वर्त्तमान में यहाँ पर कर्यवाई होती है तो निगम का खजाना चुटकी बजाते भर जाएगा और अतिक्रमण से निजात मिलेगी…..

क्या कहते है पार्षद सलीम नियारिया

इस पुरे मामले में वार्ड क्रमांक 17 के सक्रिय पार्षद सलीम नियारिया ने clipper 28 news को बताया कि इस मामले में आयुक्त आशुतोष पांडेय से उनकी चर्चा हुई है… कोरोना की वजह से यहाँ पर कार्यवाही नहीं हो पा रही है… बहुत जल्द यहाँ पर कार्यवाही होगी… श्री नियारिया ने आगे बताया कि इस बात को मैं भी मानता हू कि एक समय में यहाँ पर छोटा ट्रक घुसा करता था आज एक बाइक भी बिना पैर रखे लोग नहीं चला पाते…. दुकान के ऊपर घर भी बन गया है.

यहाँ पर कुछ रसूखदार दुकानदार ऐसे है जो रसूख.. व. धनबल के दम पर यहाँ के दुकान पर तीन मंजिला आलिशान मकान ठोक दिए जो कि नियमो के विपरीत है… गोविंदा का वो गीत सहसा यहाँ की परिस्थिति में याद आ जाता है.. “”
आखिर दुकान व मकान की पहेली को नगर निगम सुलझाएगा भी की नहीं…

कहा गया 36 दुकान… 90 चबूतरा और 12 पसरा

शहर के पुराने लोग अक्सर यही कह रहे है कि कहा गया पुरानी हटरी का 36 दुकान 90 चबूतरा पसरा 12… इनकी जगह बड़ी दुकानों ने ले ली है..बिना नगर निगम की अनुमति के बिना तिमंजिला इमारत यहाँ ठोक दी गई है…. यहाँ पर पसरे अब नहीं लगते… चारो तरफ एक दूसरे से कॉम्पटीशन कर अतिक्रमण का काला खेल यहाँ निरंतर रूप से गतिमान है…. नगर निगम और जिला प्रशासन खुद से यहाँ पर कभी भी कार्यवाही नहीं करते है…. पुरानी हटरी रियासतकालीन हाट बाजार था शहर का यहाँ पर साग भाजी. आलू प्याज.. किराना दुकान… सौंदर्य प्रसाधन.. बर्तन से लेकर हर प्रकार का बाजार नित्य लगता था लोग दूर दूर से यहाँ आते थे…. कोतवाली थाना.. पोस्ट मैट्रिक छात्रावास… कारगिल चौक…. गद्दी चौक की तरफ से लोग पुरानी हटरी में आवागमन करते थे…… आज से लगभग चार दशक पूर्व तक यहाँ ट्रेक्टर अंदर घुसता था लेकिन आज दो बाइक एक साथ नहीं घुस सकते… विडबना यह है कि यहाँ पर वो छोटे छोटे पसरे बड़ी बड़ी दुकानों का रूप ले लिए है… वो चूड़ी की दुकाने….. चना मुर्रा की दुकान और एक तरफ पुरे अंडे की दुकान सभी को आकर्षित करती थी…. आज सभी बंद हो गए है…. वहा पर यहाँ के सडको पर अपने दुकानों में लेते हुए सड़को पर कब्जा कर लिया गया है…. यहाँ के दुकानदार व आवागमन करने वाले परेशान हो रहे है…… पुरानी हटरी भी अतिक्रमण की भेट चढ़ गई है….. आज तक यहाँ पर कोई भी कलेक्टर व कमिश्नर पुरानी हटरी में कार्यवाही की गाज नहीं गिरा पाया…… इसकी वजह से यहाँ पर कार्यवाही नहीं हो पाती है….

आगजनी होने पर स्वाहा हो जायेगी पुरानी हटरी

संजय काम्प्लेक्स सब्जी बाजार में आगजनी की घटना को आज गक कोई भी नहीं भूला पाया है.. संजय काम्प्लेक्स सब्जी बाजार में तो थोड़ी तोड़फोड़ कर फायर ब्रिगेड घुस गई थी यहाँ पर तो दो बाइक एक साथ नहीं घुस सकते है…. सभी दुकानदार सड़को पर कब्जा कर अतिक्रमण कर चुके है… इस तरह की घटना में जो कोहराम यहाँ पर मचेगा वो सोचने में ही भयानक है….. भूतपूर्व कलेक्टर अमित कटारिया ने इस जगह के चौड़ीकरण के लिये कमर कसी थी लेकिन कुछ कार्यवाही होती उससे पहले उनका ट्रांसफर हो गया… तब से लेकर आज तक कोई भी कलेक्टर व कमिश्नर ने इस ओर दिलचस्पी नहीं दिखाई है…….

थोड़ी सी बारिश होने पर तालाब में तब्दील हो जाता पुरानी हटरी….

यहाँ बताना लाजिमी होगा कि पुरानी हटरी के नाले वा नालियों में गजब का इंक्रोचमेंट है….. इसकी वजह से यहाँ कि सफाई नहीं हो पाती है.. और बारिश के दौरान यहाँ पर नालियों का पानी दुकानों में बलात प्रवेश करता है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button