फैनी चक्रवात से फसल और जन जीवन को नुकसान से बचाने एडवाइजरी जारी

कोरबा : बंगाल की खाड़ी में निर्मित फेनी चक्रवात के प्रभाव से तेज हवाओं और हल्की मध्यम बारिश से होने वाले नुकसान से बचने के लिए शासन द्वारा एडवाइजरी जारी की गई है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने ऐसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ जिले के सभी अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश जारी किये हैं।

जिले में आंधी-तूफान से होने वाली क्षति पर भी कड़ी नजर रखने के निर्देश कलेक्टर ने अधिकारियों को जारी किये हैं। फैनी तूफान से किसी भी प्रकार की क्षति होने पर राजस्व पुस्तिका 6-4 के प्रावधानों अनुसार प्रभावित लोगों को तत्काल हरसंभव आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के भी निर्देश कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को दिए हैं।

फैनी तूफान के कारण पूरे छत्तीसगढ़ सहित कोरबा जिले में भी आज और कल 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की संभावना है। इस दौरान हल्की से मध्यम बारिश के कारण जिले में आद्रता में भी बढ़ोत्तरी हो सकती है।

ऐसी संभावनाओं को देखते हुए किसानों को सलाह दी गई है कि वे अपने खेत खलिहानों में कट चुकी फसलों को खुला न छोड़े। कट चुकी फसलों को सुरक्षा की दृष्टि से जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर भंडारित कर लें। खुले में रखे अनाज और खेतों में तैयार खड़ी फसल को भी काटकर सुरक्षित रखने की व्यवस्था की सलाह भी किसानों को दी गई हैं।

तूफान के कारण तेज हवाओं की स्थिति में लोगों को अधिक सावधानी बरतने की सलाह दी गई है कि ऐसी स्थिति में संभव हो तो घर से बाहर न निकलें। वाहन आदि न चलायें। झुग्गी-झोपड़ी वाले इलाकों में तेज हवा से उड़ने वाले सामानों को उचित व्यवस्था कर समय पर सुरक्षित कर लिया जाये।

कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को फैनी तूफान के कारण किसी भी प्रकार की विपरीत परिस्थितियों से निपटने के लिए मेडिकल दल बनाकर सुविधायें सुनिश्चित करने के भी निर्देश जारी किये हैं। पुलिस अधीक्षक सहित वन विभाग,

कृषि एवं अन्य सहयोगी विभाग, राहत आपदा प्रबंधन और सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों, तहसीलदारों तथा नगरीय निकायों के अधिकारियों को सचेत रहने और जरूरत पड़ने पर तत्काल राहत कार्य शुरू करने के भी निर्देश कलेक्टर द्वारा जारी किये गये हैं।

Back to top button