खेल

एएफसी एशियन कप: कतर पहली बार बना चैंपियन, विजेता जापान को हराया

कतर के स्ट्राइकर अल्मोइज अली ने गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई।

कतर की फुटबॉल टीम ने चार बार के चैंपियन जापान को फाइनल में 3-1 से हराकर एएफसी एशियन कप का खिताब पहली बार अपने नाम किया।

जायद स्पोर्ट्स सिटी स्टेडियम में खेल के 12वें मिनट में कतर के स्ट्राइकर अल्मोइज अली ने गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई।

इसके साथ ही अली एशियन कप के एक आयोजन में सर्वाधिक नौ गोल करने वाले खिलाड़ी बन गए।

उन्होंने 1996 में ईरान के अली डेई के सर्वाधिक आठ गोल करने के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया।

सिर के ऊपर से लगाई गई उनकी किक गोल पोस्ट में समा गई और कतर के खेमे में जश्न शुरूहो गया।

खेल के 27वें मिनट में अब्दुलाजीज हातिम ने गोल कर कतर को 2-0 की बढ़त पर लाकर खड़ा कर दिया।

दूसरे हाफ में ताकुमी मिनामिनो (69वें मिनट) ने गोल करके जापान को मुकाबले में वापस लाने की कोशिश की|

लेकिन निर्धारित समय से सात मिनट पहले अकरम अफीफ ने पेनल्टी के जरिये गोल करके कतर को फिर से दो गोल की बढ़त पर ला दिया। अंत में मुकाबला 3-1 से कतर के पक्ष में रहा।

मुकाबले से ठीक पहले सूडान में जन्मे 22 वर्षीय अल्मोइज अली और ईरान में जन्मे 21 वर्षीय बासाम अल-रावी को बड़ी राहत मिली जिन पर यूएई द्वारा लगाए गए|

अयोग्य खिलाड़ी के आरोप को एएफसी ने खारिज कर दिया। इसकी वजह से इन दोनों खिलाड़ियों को कतर की शुरुआती लाइन में जगह मिली।

एएफसी ने कहा कि एशियन फुटबॉल कंफेडरेशन की अनुशासन और नैतिक समिति ने कतर के दो खिलाड़ियों के खिलाफ उनके पात्रता को लेकर यूएई फुटबॉल संघ द्वारा दायर किए गए विरोध को खारिज कर दिया है।

हालांकि यह विरोध क्यों दर्ज कराया गया था और इसे किस वजह से खारिज किया गया, इसकी कोई वजह नहीं बताई गई।

कतर ने मेजबान यूएई को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी जबकि जापान ने ईरान को शिकस्त देकर अंतिम-4 में प्रवेश किया था।

खिताबी मुकाबले में हार के साथ ही जापान का पांचवीं बार खिताब जीतने का सपना टूट गया जिसने इससे पहले 1992, 2000, 2004 और 2011 में खिताब जीता था।

यह पहला मौका है जब जापान को एएफसी एशियन कप के फाइनल में शिकस्त मिली है। अब से पहले चारों खिताबी मुकाबले में उसने जीत हासिल की थी।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: