बिलासपुर के 71 शराब दुकानों में जाँच के बाद, इतनी बड़ी राशि गबन करने का मामला आया सामने

बिलासपुर जिले के 71 सरकारी शराब दुकानों में आबकारी विभाग द्वारा हर माह किए गए स्टॉक चेकिंग और ऑडिट होने के बाद भी सरकारी शराब की खरीदी -बिक्री में छह देशी व अंग्रेजी दुकानों पर लगभग 28 लाख रुपये की गड़बड़ी का मामला सामने आया हैं

बिलासपुर– बिलासपुर जिले के 71 सरकारी शराब दुकानों में आबकारी विभाग द्वारा हर माह किए गए स्टॉक चेकिंग और ऑडिट होने के बाद भी सरकारी शराब की खरीदी -बिक्री में छह देशी व अंग्रेजी दुकानों पर लगभग 28 लाख रुपये की गड़बड़ी का मामला सामने आया हैं .

बहतराई शराब दुकान की गड़बड़ी के बाद जिले की 71 शराब दुकानों की हिसाब- किताब का जांच कराया गया,जिसमें छह दुकान यदुनंदन नगर,व्यापार विहार और कोटा की देशी और अंग्रेजी शराब दुकानों में लगभग 28 लाख रूपये के गबन का मामला पकड़ में आया.

इन दुकानों में शराब बेची तो गई पर बिक्री की राशि सरकारी खजाने में जमा नहीं हुई..मामले में दुकान के सुपरवाइजर और सेल्समेन से वसूली करने ईगल हंटर कंपनी ने नोटिस जारी कर राशि जमा करने के निर्देश दिए हैं..वहीं जल्द राशि जमा नहीं होने पर FIR की चेतावनी दी है

आपको बता दें की राज्य सरकार ने शराब दुकानों का संचालन 1 अप्रैल 2017 से अपने हाथों में ले लिया है और आबकारी विभाग की देखरेख में ईगल हंटर साल्यूशन लिमिटेड कंपनी को दुकानों के संचालन की जिम्मेदारी दी है..आबकारी विभाग के एरिया इस्पेक्टर और ऑडिटर ने अप्रैल माह से नवंबर तक शराब दुकानों की हर माह खरीदी- बिक्री की ऑडिट व स्टॉक चेकिंग रिपोर्ट ओके दिया.

बावजूद इतनी बड़ी राशि की गड़बड़ी अधिकारियों की मिली भगत दिखाई पड़ती है..बहतराई मामले के बाद जांच के दौरान अप्रैल से दिसंबर तक के ऑडिट में लाखों की गड़बड़ी उजागर हुई है..हालांकि आबकारी विभाग इस संबंध में कुछ भी कहने से बचते हुए अपने अधिकारियों की गड़बड़ी पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है।

मामले में छह शराब दुकानों में बिक्री की राशि में गड़बड़ी निकालकर आयी जिसमे एडीईओ
जे.आर.मंडावी.ने कहा हैं की मामला सामने आया हैं जाँच करेंगे .

वही इंगल हंटर कम्पनी के एरिया मैनेजर रमन रावला ने बताया की जांच के बाद पुलिस कार्रवाई की जाएगी

advt
Back to top button