चार माह के बाद कलेक्टर जनदर्शन प्रारंभ, फरियाद लेकर पहुंचे 88 लोग

अंकित मिंज:

बिलासपुर। चार माह के बाद सोमवार को कलेक्टोरेट में कलेक्टर जनदर्शन प्रारंभ हुआ। इसमें आवेदन देने ज्यादातर लोग समूहों में पहुंचे । इनकी संख्या तीन सौ से अधिक रहीं।

लेकिन लम्बे अंतराल के बाद आयोजित जनदर्शन में पीएम आवास, राशन कार्ड में नाम जोडऩे, अतिक्रमण हटाने आदि के आवेदन अधिक दिए गए। कलेक्टोरेट परिसर के मंथन सभाकक्ष में दोपहर 12 बजे कलेक्टर जनदर्शन प्रारंभ किया गया।

जनदर्शन शुरू होने से पहले ही लोग इकऋा हो गए थे। ग्रामीण क्षेत्रों से ज्यादातर लोग समूह में पहुंचे थे। यह लगभग दो घंटे तक चला। दोपहर 2 बजे जनदर्शन समाप्त किया गया।

कुछ देर के लिए आए: कलेक्टर डॉ. संजय अलंग कुछ देर के लिए जनदर्शन में पहुंचे। एक दो लोगों की समस्याएं सुनीं फिर चले गए। इसी तरह जिला पंचायत की सीईओ फरिहा आलम सिद्दीकी कुछ मिनटों के लिए पहुंची थी।

इन समस्याओं से संबंधित आवेदन अधिक रहे: राशन दुकान संचालन में अनियमितता, पटवारी द्वारा रिकार्ड में हेरफेर कर जमीन का बेजा कब्जा करने, सरपंच के भ्रष्टाचार शिकायतें की गई।

इसके साथ ही पीएम आवास, राशन कार्ड में नाम जोडऩे, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत विधवा, वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिलने से संबंधित आवेदन दिए गए। साथ ही सीमांकन करने,स्थायी जाति प्रमाण पत्र बनाने, भूमि का नक्शा, खसरा,पांचसाला बी.1 दिलाने आदि मांगों के लिए भी आवेदन दिए गए । चार माह बाद आयोजित जनदर्शन में 88 लोगों ने आवेदन दिया।

ये अफसर मौजूद रहे: जनदर्शन में अपर कलेक्टर बीएस उइके, बीसी साहू, डिप्टी कलेक्टर विरेंद्र लकड़ा, संयुक्त संचालक वित्त आरबी वर्मा, एच. खलखो, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. आरके शुक्ला, पीएचई के कार्यपालन अभियंता पीके कतलम, सीएमएचओ डॉ. बीबी बोर्डें आदि उपस्थित थे।

1
Back to top button