छत्तीसगढ़

रमन के जाने के बाद वास्तु के हिसाब से सजेगा सीएम भूपेश का बंगला

रायपुर।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के बंगला छोड़कर जाने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के लिए सीएम के बंगले को वास्तु के हिसाब से सजाया जाएगा। बंगले में नए पौधे रोपे जाएंगे, सीएम हाउस का रंग भी बदलेगा।

कुछ नए गेट बन सकते हैं और कुछ का बंद किया जा सकता है। सीएम हाउस के अलग-अलग कमरों में भी वास्तु के हिसाब से काम किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने फिलहाल बंगला खाली नहीं किया है। वे कब बंगला खाली करेंगे इस बारे में शासन को भी पता नहीं है।

संपदा विभाग की डायरेक्टर संतनदेवी जांगड़े ने कहा कि इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि सीएम हाउस कब तक खाली होगा। इस बारे में मुख्य सचिव सुनील कुजूर से चर्चा की गई तो उन्होंने भी अनभिज्ञता जताई। रमन बंगला खाली कर देंगे उसके बाद भी भूपेश के लिए बंगले को तैयार करने में 20 से 30 दिन का वक्त लगेगा।

पूर्व मुख्यमंत्री समेत कई मंत्रियों ने भी अभी बंगला खाली नहीं किया है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने पहले पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर वाला बंगला मांगा था लेकिन वह बंगला मंत्री ताम्रध्वज साहू को आवंटित किया जा चुका है। रमन सिंह को कौन सा बंगला मिलेगा यह अभी तय नहीं है। कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि पूर्व सीएम मौलश्री विहार स्थित अपने निजी बंगले में शिफ्ट हो सकते हैं।

कई पूर्व मंत्री भी रायपुर में अपने निजी बंगलों में जाने की तैयारी में हैं। नए आवास में जाना है इसलिए शुभ मुहूर्त का इंतजार किया जा रहा है। अभी खरमास चल रहा है जिसमें हिंदू परंपराओं के मुताबिक कोई नया शुभ काम नहीं किया जाता। यही वजह है कि बंगलों की शिफ्टिंग में देर हो रही है। नई सरकार के मंत्रियों को भी सरकारी बंगले में शिफ्ट होने की जल्दी नहीं है।

14 जनवरी को मकर संक्रांति के बाद मुहूर्त बदलेगा तब अधिकांश बंगलों की शिफ्टिंग होगी। बंगलों के आवंटन में एक खास बात यह है कि छत्तीसगढ़ के गठन के बाद से मुख्य सचिव के बंगले के रूप में पहचान बना चुके शंकर नगर रोड स्थित बी-5/9 बंगले की पहचान पहली बार बदल रही है। इस बंगले में हमेशा मुख्य सचिव ही रहा करते थे पर इस बार राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल रहेंगे। उन्हें यह बंगला मिल चुका है।

पूर्व मुख्य सचिव अजय सिंह बंगला खाली भी कर चुके हैं। नए मुख्य सचिव सुनील कुजूर देंवेद्र नगर स्थित ऑफिसर्स कालोनी में रहेंगे।

नई सरकार के मंत्रियों में सिर्फ कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ही सरकारी बंगले में शिफ्ट हुए हैं। उन्हें शंकर नगर रोड स्थित पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल का बंगला आवंटित किया गया है। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत को भी स्पीकर हाउस मिल चुका है लेकिन वे भी संक्रांति के बाद ही नए बंगले में प्रवेश करेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को पूर्व मंत्री राजेश मूणत का बंगला मिला है। सिंहदेव अभी शांति नगर वाले अपने पुराने बंगले में ही हैं जो नेता प्रतिपक्ष के नाते उन्हें पिछले कार्यकाल में आवंटित हुआ था। शांतिनगर वाले सिंहदेव के आवास में अब आबकारी मंत्री कवासी लखमा शिफ्ट होंगे। मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया को पूर्व मंत्री रामशीला साहू का बंगला आवंटित किया गया है।

पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने केनॉल लिंकिंग रोड वाला बंगला अभी खाली नहीं किया है। वे बंगला खाली करेंगे तो वहां शिक्षामत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम रहने आएंगे। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत और शिक्षामंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम के बंगलों के बीच में खाद्य मंत्री मोहम्मद अकबर का बंगला होगा।

Summary
Review Date
Reviewed Item
रमन के जाने के बाद वास्तु के हिसाब से सजेगा सीएम भूपेश का बंगला
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button