अमीरात एयरलाइंस से धवन ही नहीं यह क्रिकेटर भी दुखी, सुनाया दुखड़ा

अमीरात एयरलाइंस से धवन ही नहीं यह क्रिकेटर भी दुखी, सुनाया दुखड़ा

नई दिल्ली : साउथ अफ्रीका के साथ भारतीय क्रिकेट टीम ने टैस्ट, वनडे और टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है। बीते दिन सारी टीम केपटाउन पहुंच गई लेकिन इसी बीच भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को दुबई एयरपोर्ट पर परेशानी झेलनी पड़ी। धवन ने आरोप लगाया कि एयरलाइन कर्मचारियों ने उनके साथ बुरा व्यवहार किया। धवन का कहना था- उन्होंने पत्नी और बच्चे के साथ साउथ अफ्रीका जाना था लेकिन दुबई में स्टे दौरान उनके बच्चे की आगे की यात्रा के लिए एयरलाइंस ने बर्थ सर्टिफिकेट मांग लिया।

ऐन मौके पर हम बर्थ सर्टिफिकेट अरेंज नहीं कर पाए इस कारण उन्हें पत्नी और बच्चे को दुबई में छोड़कर ही साउथ अफ्रीका रवाना होना पड़ा। धवन का कहना था कि अगर ऐसी कोई शर्त थी तो हमें मुंबई से फ्लाइट पकड़ते वक्त क्यों नहीं बताया गया। धवन ने अपने ट्विटर पर इस संबंधी भड़ास भी निकाली थी। हालांकि बाद में अमीरात ऑफिशियल ने कहा था कि उन्हें ऐसा साउथ अफ्रीका के कानून की वजह से करना पड़ता है। साउथ अफ्रीका में कानून है- 18 साल से कम का कोई भी बच्चा अगर साउथ अफ्रीका आना चाहता है तो अपना बर्थ सर्टिफिकेट साथ रखे। धवन को हुई परेशानी के लिए खेद है लेकिन हम भी नियमों के कारण बंधे हैं।

अब ताजा मामला इंलगैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन ने उठाया है। उन्होंने भी अमीरात एयरलाइंस पर उन्हें परेशान करने का आरोप लगाया है। पीटरसन का कहना है कि जब कुछ दिन पहले वह भी अमीरात एयरलाइन से सफर कर रहे थे, तब भी उन्हें कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ा। धवन का साथ देते हुए पीटरसन ने ट्वीट कर बताया कि अमीरात एयरलाइन सचमें अनप्रोफेशनल है। एक बार इसी कारण उनका बैग दुबई एयरपोर्ट पर ही छोड़ दिया गया था। तब पीटरसन ने एयरलाइन को घटना संबंधी टैग करते हुए लिखा था कि अब आप बताएं बिना कपड़े मैं कैसे काम करूं? उन्होंने यहां तक कहा कि एयरलाइंस को फ्लाइट्स में टीवी की भी व्यवस्था करनी चाहिए ताकि लोग लाइव मैच देख सकें।

advt
Back to top button