बीजेपी के बाद कांग्रेस स्टार प्रचारक की लेटलतीफी, निरस्त करना पड़ा चुनावी दौरा

बालोद जिले की दो सभाओं में से मात्र एक सभा में ही पहुंच पाई.

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में बीजेपी के बाद अब कांग्रेस के स्टार प्रचारक की लेटलतीफी ने कार्यकर्ताओं की परीक्षा ली है.

बता दें कि बीते मंगलवार को जहां बीजेपी की स्टार प्रचारक बालोद जिले की दो सभाओं में से मात्र एक सभा में ही पहुंच पाई.

वहीं बीते बुधवार को कांग्रेस की स्टार प्रचारक और राष्ट्रीय प्रवक्ता रागिनी नायक और राज्यसभा सांसद छाया वर्मा 5 घंटे लेट से पहुंची, जिस चलते इस चुनावी दौर के अंतिम समय मे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को अपना चुनावी दौरा निरस्त कर इंतजार करना पड़ा.

इस बीच देर शाम कांग्रेस की स्टार प्रचारक रागिनी नायक और राज्यसभा सांसद छाया वर्मा पहुंची और पहुंचते ही राज्यसभा सांसद ने सबसे पहले मंच संभाला. साथ ही जिले की तीनों विधानसभा में अपने प्रत्याशी को जीताकर लाने और सरकार बनने पर बालोद जिले में एक मंत्री देने के का आश्वासन देती दिखीं.

वहीं दिल्ली से बालोद पहुंची कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता और छत्तीसगढ़ की स्टार प्रचारक रागिनी नायक ने केंद्र की मोदी और छत्तीसगढ़ की रमन सरकार पर जमकर निशाना साधा.

इस चुनाव को एक जंग बताते हुए इस जंग को अत्याचार, सांप्रदायिकता और जुमलेबाजी बताया. साथ ही कहा कि देश की अखंडता और विभाजन करने वाले गांधी और गोडसे की बीच ये जंग है.

इसमें स्टार प्रचारक ने इस जंग में कांग्रेस पार्टी का साथ देने की बात कही. वहीं मीडिया से रूबरू होकर रागिनी नायक ने कांग्रेस को ज्वार और बीजेपी का भाटा बताया.

उन्होंने कहा कि बीजेपी के 15 सालों के कुशासन में जनता त्राहिमाम हो चुकी है. और प्रदेश में हर वर्ग इस सरकार से परेशान है. इसलिए इस चुनाव बदलाव का बयार बह रही है.

Tags
Back to top button