डोकलाम विवाद के बाद सिक्किम और भूटान सीमा पर SSB ने बढ़ाई अपनी ताकत- राजनाथ सिंह

चीन के साथ डोकलाम ट्राईजंक्शन पर हुई तनातनी के बाद सिक्किम और भूटान सीमा पर सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) ने अपनी स्थिति काफी मजबूत कर ली है।

चीन के साथ डोकलाम ट्राईजंक्शन पर हुई तनातनी के बाद सिक्किम और भूटान सीमा पर सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) ने अपनी स्थिति काफी मजबूत कर ली है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को यह जानकारी दी।

गृहमंत्री ने कहा कि एसएसबी ने भूटान सीमा पर नए पोस्ट बनाकर अपनी सामरिक स्थिति को ठोस रुप दिया है। साथ ही सीमावर्ती इलाके के लोगों के साथ दोस्ताना रिश्ते बनाने में एसएसबी अहम भूमिका निभा रहा है।

गौरतलब है कि चीन ने भूटान के डोकलाम पठार तक सड़क बना कर उसपर अपना दावा ठोक दिया था। इस प्रतिक्रिया में भारत ने भी भारत-भूटान सीमा पर अपनी सेना बिठाकर चीन को बातचीत के लिए मजबूर किया।

भारत और चीन के बीच हुई सुलह के बाद दोनों सेनाएं पीछे हटीं। एसएसबी के 54वें स्थापना समारोह के मौकेपर राजनाथ ने कहा कि यह केंद्रीय बल नेपाल और भूटान सीमा पर शांति और सदभाव स्थापित करने में अहम रोल अदा कर रहा है।

पिछले दिनों एसएसबी को अपनी अलग खुफिया तंत्र कायम करने की हरी झंडी मिली है। गृहमंत्री ने कहा कि एसएसबी ने सीमा सुरक्षा के साथ नक्सल और उग्रवाद इलाके में भी सराहनीय काम किया है। राजनाथ ने कहा कि सीमावर्ती इलाकों के निवासी अहम सामरिक संपत्ति हैं।

सरकार उनकी सुरक्षा और सम्मान केलिए ठोस काम कर रही है। भूटान और नेपाल जैसे मित्र देशों के सीमावर्ती इलाकों में दोस्ताना माहौल कायम करने में एसएसबी का अहम रोल है।

advt
Back to top button