ड्रोन हमले के बाद लगातार सुरक्षा एजेंसियों को फर्जी कॉल्स आना शुरू

सुरक्षा एजेंसियों ने फर्जी कॉलों को लेकर जारी किया अलर्ट

श्रीनगर:जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 23 जुलाई को अंतरराष्ट्रीय सीम के पास जम्मू के कनाचक इलाके में एक ड्रोन गिराया था। यह ड्रोन पाकिस्तान से भारत की सीमा में आया था। बीते महीने जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के पास ड्रोन से विस्फोट हुआ था। इसमें पाकिस्तानी आतंकी संगठनों का हाथ बताया गया था।

वहीँ अब सुरक्षा एजेंसियों को लगातार फर्जी कॉल्स आना शुरू हो गया है। ये कॉल पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की ओर से की जा रही हैं। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, सुरक्षा एजेंसियों ने पाकिस्तान की तरफ से भारतीय सुरक्षा बलों को की जा रही इन फर्जी कॉलों को लेकर अलर्ट जारी किया है।

खबर के मुताबिक, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई लगातार इस पर विचार कर रही है कि वे वरिष्ठ अधिकारी बनकर भारतीय सुरक्षाबलों को की जा रही फर्जी कॉल्स की संख्या को बढ़ाएं। ये कॉल अलग-अलग नंबरों से आ रहे हैं और इनमें से बेहद कम ही ऐसे हैं, जिन्हें ट्रेस किया जा सकता है।

खबर के मुताबिक, पश्चिमी सेक्टर में ड्रोन के खतरे के बाद अब इस तरह की फर्जी कॉलों ने सुरक्षा एजेंसियों की चिंता को बढ़ा दिया है। इससे पहले भी सुरक्षा एजेंसियों ने इस तरह की कॉल की जानकारी दी थी और इसपर एजेंसियों के लिए एडवाइजरी भी जारी की गई थी।

अगले महीने स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर सुरक्षा एजेंसियों को इस तरह की फेक कॉल्स को लेकर अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। साथ ही यह भी ध्यान रखने को कहा गया है कि किसी भी तरह की खुफिया जानकारी लीक न हो।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button