घटना के बाद जागा विभाग, पिट लाइन रोकेगा सांप

विकल्प तललवार

बिलासपुर। सफेद बाघ की मौत के बाद वन विभाग को कानन पेंडारी जू के केजों की सुरक्षा का ख्याल आया है। सांप समेत अन्य जहरीले जीव-जन्तु को रोकने के लिए केज के बाद तीन फीट गहरी स्नेक पिट लाइन लाइन बनाई जाएगी।

इसके लिए पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ ने जू प्रबंधन को आदेश भी जारी कर दिया है। जल्द ही बाघ, तेंदुआ समेत अन्य वन्यप्राणियों के केज में सुरक्षा का यह इंतजाम किया जाएगा।
पिछले दिनों जू में सफेद बाघ विजय की मौत हो गई।

जू प्रबंधन ने घटना की वजह सांप काटने को बताया है। यही रिपोर्ट वन मुख्यालय रायपुर और केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को भेजी गई है। पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ ने केज की सुरक्षा के लिए किए गए उपाय के संबंध में जानकारी ली।

स्नेक पिट लाइन की केवल खानापूर्ति

जानकारी में पता चला कि अभी जहरीले जीव-जन्तु को रोकने के लिए स्नेक पिट लाइन की केवल खानापूर्ति की गई है। बामुश्किल एक फीट गहरा होने के कारण इससे आसानी से जीव- जन्तु केज के अंदर तक घुस जा रहे हैं।

इसे लेकर उन्होंने नाराजगी भी जताई और तत्काल आदेश दिया कि करीब तीन फीट गहरी स्नेक पिट लाइन बनाई जाए। इससे नाइट इंक्लोजर सुरक्षित रहेगा। प्रबंधन आदेश पर अमल शुरू कर दिया है।

इसके तहत केज चारों तरफ तीन फीट गहरे नाली की तरह गड्डा खोदा जाएगा। इससे सांप हो या अन्य जीव-जन्तु केज में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। कोशिश करते समय वह नीचे गिर जाएगा। इसके लिए नापजोख शुरू हो गई है। एक-दो दिन के भीतर काम प्रारंभ भी हो जाएगा।

1
Back to top button