नक्सली धमकी के बाद ग्रामीण पुलिस के शरण में

तीन परिवारों को गांव छोड़ने की धमकी दी

कोंडागांव। नक्सलवाद से तंग आकर अब ग्रामीण नक्सलियों के खिलाफ लड़ रहे हैं। इसी वजह से नक्सलियों ने कोण्डागांव में तीन परिवारों को गांव छोड़ने की धमकी दी है, अगर ऐसा नहीं किया तो सजा भुगतने के लिए तैयार रहना।

इन तीन परिवारों में तकरीबन 24 लोग है। नक्सलियों की धमकी के बाद से ग्रामीणों ने पुलिस से सहायता मांगी है। ग्रामीणों के इस तरह के विरोध के बाद नक्सली हताश हो गए है,इसलिए समर्थकों को गांव छोड़ने की धमकी दे रहे हैं। एसपी इस मामले में शिकायत दर्ज करेंगे।

ग्रामीण नक्सलवाद से तंग

पुलिस अधिकारी ने यह भी कहा कि ग्रामीण नक्सलवाद से तंग आ गए हैं। अब वे इससे थक गए हैं इसलिए, वे अब बाहर निकल रहे हैं और नक्सलियों के खिलाफ लड़ रहे हैं। यह एक बड़ी बात है कि बेचा और किलम के लोग नक्सलियों के खिलाफ लड़ने के लिए आगे आए हैं। यह एक सकारात्मक संकेत है।

उन्होंने आगे कहा कि आज भी, हमने एक नक्सली को पकड़ा है और साथ ही 5-10 नक्सल आत्मसमर्पण करने के लिए तैयार हैं जिनके खिलाफ 10-15 वारंट जारी किए गए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि यदि वे अपने घर नहीं छोड़ते हैं तो नक्सलियों ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी है।

Back to top button