अफगानिस्तान में कब्जे के बाद से अफरातफरी का माहौल, अमेरिकी ड्रोन हमले में 3 अफगानी बच्चों की मौत

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से अफरातफरी का माहौल है. रविवार को एक बार फिर काबुल एयरपोर्ट के पास आंतकी हमला हुआ. वहीं अमेरिका ने भी आईएसआईएस के आत्‍मघाती आतंकी पर ड्रोन (Drone Attack) से हमला किया है. अमेरिका का कहना है कि आईएसआईएस का यह आत्‍मघाती आतंकी कार के जरिये काबुल एयरपोर्ट पर हमले की योजना बना रहा था. दूसरी तरफ अफगान अधिकारी ने कहा है कि इस हमले में तीन बच्‍चों की भी मौत हुई है. वहीं अमेरिका 31 अगस्त तक काबुल एयरपोर्ट को खाली करने के लिए तेजी से लोगों का रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहा है.

अमेरिका ने की दूसरी एयर स्ट्राइक

तीन दिन पहले ही काबुल एयरपोर्ट के सीरियल ब्लास्ट हुए थे. इसमें 13 अमेरिकी जवानों सहित 100 से अधिक लोगों की जान गई थी. इस हमले के बाद अमेरिका ने ड्रोन हमला कर हमले के मास्टरमाइंड को मार गिराया था. रविवार को एक बार फिर अमेरिका ने ड्रोन हमला किया. एक अधिकारी ने जानकारी दी है कि अमेरिकी ड्रोन हमले में एक कार को बम से उड़ाया गया है, जिसमें कई आत्‍मघाती हमलावरों के होने की बात की जा रही है. यह भी कहा जा रहा है कि ये हमलावर काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने जा रहे थे.

हो सकते हैं हमले
काबुल धमाके को लेकर तालिबान का बड़ा बयान सामने आया है. तालिबान के प्रवक्ता जबिउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि अमेरिका ने सुसाइड बॉम्बर को निशाना बनाया है. मुजाहिद ने कहा कि आतंकी एयरपोर्ट पर हमला करना चाहते थे. आपको बता दें कि धमाके में एक बच्चे समेत दो की मौत हो गई है, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. यह हवाई हमला एयरपोर्ट के पास ख्वाजा बुग्रा नाम के रिहायशी इलाके में हुआ है. आपको बता दें कि अमेरिका ने पहले ही काबुल एयरपोर्ट पर एक बम धमाके की चेतावनी दी थी. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि उनके सैन्य कमांडरों ने उन्हें सूचित किया कि अफगानिस्तान में 24 से 36 घंटे के अंदर एक हमले की बहुत संभावना है. इससे पहले 26 अगस्त को काबुल एयरपोर्ट पर दो बड़े धमाके हुए थे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button