माल्या के यॉट की बिक्री के बाद बैकों ने की रकम साझा करने मांग

माल्या पर इन बैंकों के 10 हजार करोड़ रुपये बकाया हैं

लंदन। भारत के 13 बैंकों के एक कंसोर्टियम ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के यॉट इंडियन एम्प्रेस की बिक्री से मिली रकम साझा करने मांग की है।

माल्या पर इन बैंकों के 10 हजार करोड़ रुपये बकाया हैं। माल्या ने इस यॉट को 2006 में खरीदा था और इसकी मरम्मत में पांच लाख पौंड (वर्तमान में लगभग 44.5 करोड़ रुपये) खर्च किए थे।

इस यॉट में 15 सीटर सिनेमा हॉल, स्पा एवं स्टीम रूम, ब्यूटी सैलून और जेंटलमैन्स लॉन्ज है। वर्तमान में यह यॉट माल्टा के वालेटा में खड़ा है।

इस यॉट पर माल्या ने मोनाको गैंड प्रीक्स वीकेंड के दौरान कुछ फॉर्मूला वन पार्टियां की थीं, जिनमें 1,000 से अधिक लोगों का आमंत्रित किया गया था।

इस यॉट की कीमत लगभग 9.3 करोड़ डॉलर (लगभग 648 करोड़ रुपये) है। कथित तौर पर मेरिटाइम बिल न चुकाने पर माल्या ने सितंबर 2017 में इसे को छोड़ दिया था।

40 से अधिक क्रू का लगभग 1.97 करोड़ रुपये का वेतन न चुकाने पर सीफेरर्स के संगठन नॉटिलस इंटरनैशनल ने इस यॉट को मार्च 2018 में जब्त कर लिया था।

इस यॉट को सितंबर 2018 में एक जुडिशल री-ऑक्शन के तहत लगभग 277 करोड़ रुपये में माल्टीस सोसायटी सी ब्यूटी याचिंग लिमिटेड को बेच दिया गया था।

Back to top button