छत्तीसगढ़राज्य

मुख्यमंत्री के शिक्षाकर्मियों के पक्ष में बयान के बाद जाने शिक्षाकर्मी नेताओं ने क्या कहा? पढ़े पूरी खबर

मांगों पर शीघ्र घोषणा की बात कही

रायपुर:इधर जैसे ही मुख्यमंत्री ने शिक्षाकर्मियों की मांगों में सकारात्मक पहल की बात की .उधर वैसे ही शिक्षाकर्मी नेताओं ने मुख्यमंत्री के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए उनकी बातों का स्वागत किया .

साथ ही शीघ्र शिक्षाकर्मियों की मांगों पर घोषणा करने की बात कही .शिक्षक पंचायत ननि मोर्चा छग के प्रांतीय संचालक विरेन्द्र दुबे ने कहा कि हम हमेशा शिक्षाकर्मियों के समस्याओं के सकारात्मक ढंग से समाधान के पक्षधर रहे हैं और हमने अनेक आंदोलन शून्य पर भी मुख्यमंत्री के ऊपर भरोसा करते हुए वापस ले लिया।

मुख्यमंत्री के वर्तमान बयान का हम स्वागत करते हैं,लेकिन 3 की जगह 6 माह बीतने पर भी शिक्षाकर्मी चिंताग्रस्त है।अतः मुख्यमंत्री से अपील करते हैं कि अविलंब शिक्षाकर्मियों के संबंध में घोषणा की जाए तथा घोषणा का क्रियान्वयन बिना किसी देरी के की जाए, ताकि नए शिक्षा सत्र के आरंभ में एक पूर्ण शिक्षक के रूप में विद्यालय जा सके।

मोर्चा के प्रांतीय उपसंचालक धर्मेश शर्मा ने कहा कि संविलियन ही शिक्षाकर्मियों की समस्याओं का स्थायी और समग्र समाधान है।ठोस पहल से ही समस्याएं समाप्त होगी।अनावशयक विलम्ब ही आक्रोश का कारण है, जल्द निर्णय ही समाधान है।

मोर्चा के उपसंचालक जितेन्द्र शर्मा ने कहा कि शिक्षाकर्मियों का संविलियन ही छग में शिक्षा के विकास की नई गाथा लिखेगा, इसके बिना समुचित विकास की कल्पना निर्रथक। अस्थायी सँवर्गवाद की समाप्ति से प्रदेश के युवाओं के लिये सुरक्षित और आकर्षक कैरियर का मार्ग प्रशस्त होगा। मुख्यमंत्री के वादे की ओर 1,80,000 शिक्षाकर्मियों और उनके 9 लाख परिवारजन यही उम्मीद लगाए हैं कि जल्द ही संविलियन हो।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: