3rd नोटिस के बाद आखिरकार बयान दर्ज कराने पहुंचे डॉ. पुनीत गुप्ता

उन्हें तीसरी बार नोटिस जारी कर किया गया था तलब

रायपुर: आखिरकार लंबे इंतजार और तीसरे नोटिस के बाद आज डॉ पुनीत गुप्ता अपना बयान दर्ज कराने गोल बाजार थाने पहुंचे। पुनीत गुप्ता के खिलाफ डीकेएस अस्पताल की निविदा व भर्ती के साथ गड़बड़ियों के कई गंभीर आरोप है। पहले दो नोटिस जारी होने के बावजूद पुनीत गुप्ता अपना बयान दर्ज कराने के लिए पुलिस के समक्ष पेश नहीं हुए थे, जिसके बाद उन्हें तीसरी बार नोटिस जारी कर तलब किया गया था।

पुनीत गुप्ता के विदेश भागने की संभावना के मद्देनजर लुकआउट सर्कुलर भी जारी किया गया था, वहीं जगह-जगह लापता के पोस्टर भी लगाये गये थे। तीसरे नोटिस में पुनीत गुप्ता को 8 मई तक की मोहलत दी गयी थी. जिसके बाद आज वो अपना बयान दर्ज कराने वकील के साथ पहुंचे हुए हैं।

डॉ. गुप्ता को हाईकोर्ट से राहत मिली हुई है, उन्हें हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिली हुई है। इसके पहले 30 अप्रैल को सुबह 11 बजे डॉ गुप्ता को SIT ने बयान दर्ज कराने गोल बाजार थाने बुलाया था, लेकिन दो घंटे के इंतजार के बावजूद डा पुनीत गुप्ता हाजिर नहीं हुए। ढ़ाई घंटे बाद करीब डेढ़ बजे टीम वापस लौट गयी। जिसके बाद एक और नोटिस जारी की गयी है।

बता दें कि डॉ पुनीत गुप्ता पर डीकेएस अस्पताल में भर्ती और निविदा मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगा है। बीते 15 मार्च को थाना गोलबाजार में अपराध क्रमांक 70/19 के तहत धारा 409,420,467,468 और 120 बी की धाराओं में डॉ पुनीत गुप्ता को आरोपी बनाया गया था। हालांकि हाईकोर्ट ने डॉ पुनीत गुप्ता को इस प्रकरण में अग्रिम जमानत दे दी है, लेकिन साथ ही ये भी कहा गया है कि वो जांच में सहयोग करें।

Back to top button