बिना लाइसेंस के बिक रहे है कृषि दवाईयां

घर जाकर अवैध तरीके से खाद व दवाईयां खुलेआम अक्सर बेचते नज़र आते है

राजशेखर नायर

नगरी। कृषि में उपयोग होने वाले कीटनाशक ग्रामीण क्षेत्रों में बिना लाइसेंस के बेचीं जा रही है।साथ ही कुछ कृषि दवा बेचने वाली कम्पनियों के सेल्समैन कीटनाशकों के प्रचार के नाम पर ग्रामीण क्षेत्रों में घर जाकर अवैध तरीके से खाद व दवाईयां खुलेआम अक्सर बेचते नज़र आते है।

कृषि विभाग के अधिकारी इन अवैध कृषि दवा बेचने वालो पर किसी तरह की कार्यवाही नही करते। इसकी वजह से लाइसेंसी व्यापारियों का नुकसान तो हो रहा है। साथ ही किसानों को अमानक खाद व दवाईयां बेचीं जा रही है। किसान इन घुम घूम कर दवाईयां बेचने वालों के हाथो ठगे जा रहे हैं।

किसानों का कहना है कि कृषि विभाग के अधिकारी गांव मे आते नहीं । जानकारी के अभाव मे सेल्समैन जो भी दवाईयां थमदेता है उसका प्रयोग फसलों मजबूर होते है। अमानक दवाओ की जाँच भी समय समय नहीं कराई जाती है इसलिए बाजार में बिक रही कृषि दवाओँ की गुणवत्ता का पता नहीं चल पता है जिसका परिणाम फसल के उत्पाद पर पड़ता है।

Back to top button