राष्ट्रीय

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा मामले में आज दर्ज होगा बयान

कारोबारी राजीव सक्सेना के सरकारी गवाह बनने को लेकर लगाई गई अर्जी

नई दिल्ली: अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा मामले में आज शनिवार को बयान दर्ज होगा. कारोबारी राजीव सक्सेना के सरकारी गवाह बनने को लेकर अर्जी लगाई गई, जिस पर आज पटियाला हाउस कोर्ट में बयान दर्ज होगा.

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के पास अर्जी

मामले की सुनवाई कर रहे पटियाला हाउस कोर्ट के गुरुवार को विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने सक्सेना की गवाह बनने की अनुमति मांगने वाली अर्जी को मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के पास भिजवा दिया है.

सुनवाई के दौरान विशेष न्यायाधीश ने सक्सेना से पूछा कि क्या आप ये जानते हैं कि सरकारी गवाह बनने के बाद भी दोषी पाए जाने पर आपको सजा हो सकती है. राजीव सक्सेना ने जवाब दिया कि वे इससे वाकिफ हैं. उन्होंने कहा कि वे सभी बातें स्पष्ट तौर पर कोर्ट को बताएंगे क्योंकि उनका इरादा कोई बात छुपाने का नहीं है.

सोच विचार करने के बाद गवाह बनने का फैसला

सक्सेना ने कोर्ट को बताया कि काफी सोच विचार करने के बाद गवाह बनने का फैसला किया है. साथ ही सरकारी गवाह बनने के लिए किसी ने उन पर दबाव भी नहीं डाला है. मैं अपनी गवाही निष्पक्ष तरीके से देना चाहता हूं.

राजीव सक्सेना ने 27 फरवरी को गवाह बनने के लिए पटियाला हाउस कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी. उन्हें बीमार होने के आधार पर 25 फरवरी को कोर्ट से नियमित जमानत भी दी जा चुकी है. सक्सेना को 31 जनवरी को दुबई से प्रत्यर्पण कर लाया गया था और उन्हें 12 फरवरी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था.

दुबई की दो कंपनियां यूएचवाई सक्सेना और मैट्रिक्स होल्डिंग्स के निदेशक सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में आरोपी बनाया गया है. ईडी उनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर चुकी है.

जांच एजेंसी ने कोर्ट में दाखिल की अपनी चार्जशीट में कथित बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल, अगस्ता वेस्टलैंड और फिनमेकेनिका के पूर्व निदेशक ग्विसेप्पे ओर्सी और ब्रूनी स्पैग्नोलिनी, वायुसेना के पूर्व प्रमुख एसपी त्यागी के अलावा राजीव सक्सेना की पत्नी शिवानी का भी नाम है.

ईडी का सक्सेना पर आरोप है कि उन्होंने वकील गौतम खेतान के साथ साठ-गांठ कर अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी के पक्ष में कॉरपोरेट ढांचा मुहैया कराया था, जिससे विभिन्न राजनीतिज्ञों, नौकरशाहों और वायुसेना अधिकारियों को भुगतान किया जा सके और काले धन को सफेद किया जा सके.

कोर्ट मामले के आरोपी कथित बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल की 16 फरवरी को जमानत अर्जी खारिज कर चुका है. भारत ने करार के शर्तों के उल्लंघन और सौदे के लिये 423 करोड़ रुपये अतिरिक्त देने के आरोप की वजह से 1 जनवरी 2014 को फिनमेकैनिका की ब्रिटिश सहयोगी कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड से करार खत्म कर दिया था. अगस्ता वेस्टलैंड सौदा 36 हजार करोड़ रुपये का है, जिसमें 12 एडब्ल्यू 101 हेलिकाप्टर की आपूर्ति की जानी थी.

Tags
Back to top button