गिर नेशनल पार्क में 23 शेरों की मौत पर अहमद पटेल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

पटेल ने इसके लिए कुप्रबंधन को ठहराया जिम्मेदार

गुजरात :

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने गुजरात के गिर नेशनल पार्क में 23 शेरों की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र लिखा है। 20 सितंबर से यहां 23 शेरों की मौत हो गई। पटेल ने इसके लिए कुप्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने प्रदेश सरकार पर कुप्रबंधन का आरोप लगाया है।

उन्होंने कहा, ‘उनकी मौत रातों रात नहीं हुई है, बल्कि राज्य सरकार का लंबे समय से खराब प्रबंधन और खराब निगरानी इसका नतीजा है।’ पिछले 20 दिनों में गिर में 23 शेरों की मौत हो गई है।

एशियाई शेरों की मौत पर देश की शीर्ष अदालतों में से दो ने चिंता और नाराजगी व्यक्त की है। शेरों की मौत पर केंद्र और गुजरात सरकार से सवाल करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह बेहद गंभीर मुद्दा है और सरकार को शेरों की मौत का कारण पता होना चाहिए, शेरों को संरक्षित किया जाना चाहिए।

इन मौतों के लिए खतरनाक कैनाइन डिस्टेंपर वायरस (सीडीवी) और प्रोटोजोवा संक्रमण को जिम्मेदार माना जा रहा है। गिर वन्यजीव अभयारण्य गुजरात में राज्य स्थित राष्ट्रीय उद्यान एवं वन्यप्राणी अभयारण्य है, जो एशिया में शेरों का एकमात्र निवास स्थान होने के कारण जाना जाता है। विश्व में अफ्रीका के बाद इसी विस्तार में सिंह बचे हैं।

मौतों पर गुजरात के वन मंत्री गणपत वासव ने कहा कि कैनिन डिस्टेंपर वायरस (सीडीवी) की वजह से 23 में से चार शेरों की मौत हुई और बाकियों की मौत की रिपोर्ट का इंतजार है।

Back to top button