एम्स में मिलेगी राजधानीवासियों को सस्ता इलाज, मुफ्त में होगा कैंसर का उपचार

कैंसर की दवा को लेकर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की अमृत फार्मेसी 70 फीसद सस्ती दवा मरीजों को पिछले तीन साल से देती आ रही है।

रायपुर। रायपुर के टाटीबंध स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में अब तक सेंट्रल गवर्नमेंट हेल्थ स्कीम की दर मान्य थी । अब अस्पताल प्रबंधन ने यहां की दरों को दिल्ली एम्स और चंडीगढ़ पीजीआई के समकक्ष कर दिया है,

यह राजधानीवासियों के लिए राहत की खबर है। एम्स के निदेशक एम.नागरकर ने बताया कि स्थापना के पांच साल के अंदर ही एम्स ने इलाज की दरों को दिल्ली एम्स के बराबर कर दिया है। उन्होंने कहा कि कम कीमत होने के बावजूद इलाज की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

मुफ्त में होगा कैंसर का उपचार

नागरकर ने बताया कि कैंसर की जांच और इलाज यहां मुफ्त होगा। कैंसर की दवा को लेकर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की अमृत फार्मेसी 70 फीसद सस्ती दवा मरीजों को पिछले तीन साल से देती आ रही है।

जानें कितना सस्ता हुआ इलाज

छत्तीसगढ़ एम्स में अब ऑर्थोपेडिक्स एवं सर्जरी विभाग में ऑपरेशन केवल 150 रुपए में किया जाएगा। पहले मरीजों को इसके लिए ढाई हजार रुपये देने पड़ते थे। एक यूनिट ब्लड पहले 1100 रुपए में मिलता था अब वह मात्र 75 रुपए,

हेड सिटी स्कैन कान्ट्रास्ट 600 रुपए, एंजियोग्राफी 500 रुपए, एमआरआई 2500 रुपए, ऑर्गन स्कैन स्पाइन और एबडॉमिनल 1100 रुपए, ईको कॉर्डियो 200 रुपए, सोनोग्राफी 100 रुपए, नॉर्मल डिलीवरी 500 रुपए, सीजेरियन डिलीवरी- दवाई के साथ 1000 रुपए, हर्निया ऑपरेशन 300 रुपए में होगा। ब्लड टेस्ट के तहत लिपिड प्रोफाइल वगैरह की जांच रेट में 80 फीसदी की कमी की गई है।

Back to top button