राष्ट्रीय

वायुसेना की वीरता और प्रतिबद्धता सभी भारतीय नागरिकों के लिए प्रेरणा : राहुल गांधी

अक्टूबर 1948 से बोर्ड का कार्यालय क्लेमेनटाउन छावनी क्षेत्र में स्थित

नई दिल्ली :

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायुसेना के 86वां एयरफोर्स डे के अवसर पर सोमवार को कहा कि वायुसेना कर्मियों की वीरता और प्रतिबद्धता सभी देशवासियों के लिए प्रेरणा है। इस अवसर पर वायुसेना के जांबाज जमीन से लेकर आसमान तक अपनी ताकत का प्रदर्शन कर रहे हैं।

राहुल ने ट्वीट कर कहा कि इस अवसर पर मैं वायुसेना के सभी बहादुर पुरुषों और महिलाओं को सलाम करता हूं। उनकी वीरता और प्रतिबद्धता सभी भारतीय नागरिकों के लिए प्रेरणा है। जय ङ्क्षहद। भारतीय वायुसेना की स्थापना 8 अक्टूबर 1932 को हुई थी। इसी अवसर पर प्रति वर्ष आठ अक्टूबर को वायुसेना दिवस मनाया जाता है।

महज चार वेस्टलैंड वापिती वायुयान (जहाज) के साथ शुरुआत करने वाली भारतीय वायुसेना आज वैश्विक स्तर पर अपनी अलग पहचान बना चुकी है। वायुसेना के संदर्भ में देहरादून का भी अहम स्थान है। यहां स्थापित वायुसेना प्रवरण बोर्ड एयरफोर्स के लिए योग्य अभ्यर्थियों का चयन करता है। आजादी से पहले बोर्ड का कार्यालय एफआरआइ में स्थापित था।

जबकि स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद अक्टूबर 1948 से बोर्ड का कार्यालय क्लेमेनटाउन छावनी क्षेत्र में स्थित है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
वायुसेना की वीरता और प्रतिबद्धता सभी भारतीय नागरिकों के लिए प्रेरणा : राहुल गांधी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags