एयर इंडिया को सरकारी फंड से मिलेंगी नई जिंदगी

सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया की बिक्री की योजना टाल दी

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली की अध्यक्षता में एयर इंडिया के भविष्य को लेकर बैठक हुई। इस बैठक में सरकार ने फिलहाल सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया की बिक्री की योजना टाल दी है।

इस चुनावी साल में सरकार एयर इंडिया को परिचालन के लिए जरूरी धन उपलब्ध कराएगी। सरकार ने कर्ज के बोझ से दबी एयर इंडिया की 76 प्रतिशत हिस्सेदारी की रणनीति बिक्री का फैसला किया था। सरकार को एयर इंडिया की हिस्सेदारी बिक्री के लिए कोई बोली नहीं मिली थी।

करीब तीन सप्ताह पहले एयरलाइन के लिए बोली लगाने की समय सीमा समाप्त हो गई। एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि एयर इंडिया को जल्द अपने रोजाना के परिचालन के लिए सरकार से कोष मिलेगा।

यही नहीं वह एक-दो विमानों की खरीद के लिए ऑर्डर भी दे सकेगी। इस बैठक में अस्थायी रूप से वित्त मंत्रालय का प्रभार संभाल रहे पीयूष गोयल,नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु,परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के अलावा वित्त और नागर विमानन मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Back to top button