मई में हवाई यात्रियों की संख्या रिकॉर्ड स्तर के पार

नई दिल्लीः सस्ते टिकट और दूरदराज के शहरों तक विमान सेवा की पहुंच से मई में घरेलू मार्गों पर हवाई यात्रियों की संख्या 16.53 प्रतिशत बढ़कर अब तक के रिकॉर्ड स्तर एक करोड़ 18 लाख 56 हजार पर पहुंच गई। घरेलू हवाई यात्रियों का इससे पिछला रिकॉर्ड स्तर मार्च में दर्ज किया गया था जब यह आंकड़ा एक करोड़ 15 लाख 80 हजार रहा था। पिछले साल मई में देश में एक करोड़ एक लाख 74 हजार लोगों ने हवाई यात्रा की थी।

टॉप पर रही इंडिगो : मई में यात्रियों की संख्या के लिहाज से इंडिगो शीर्ष पर बनी रही। उसकी बाजार हिस्सेदारी इस साल पहली बार 40 प्रतिशत के पार पहुंचकर 40.9 प्रतिशत पर रही। जेट एयरवेज की हिस्सेदारी 13.7 प्रतिशत, सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया की 12.8 प्रतिशत, स्पाइसजेट की 12.3 प्रतिशत और गोएयर की 8.7 प्रतिशत रही।

भरी सीटों के साथ स्पाइसजेट अव्वल : भरी सीटों के साथ उड़ान भरने के मामले में किफायती विमान सेवा कंपनी स्पाइसजेट एक बार फिर अव्वल रही। उसका पैसेंजर लोड फैक्टर (पीएलएफ) 94.8 दर्ज किया गया। इंडिगो की 91 प्रतिशत, एयर एशिया की 89.7 प्रतिशत, गोएयर की 89.2 प्रतिशत, विस्तारा की 85.7 प्रतिशत, ट्रूजेट की 82.7 प्रतिशत और एयर इंडिया की 81.3 प्रतिशत सीटें औसतन भरी रहीं।

new jindal advt tree advt
Back to top button