अजीत जोगी ने इस गांव से किया खेत चलो अभियान का आगाज,बासी का लुत्फ भी उठाया

पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं ने किसानों के काम में हाथ बटाया

रायपुर:जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) के खेत चलो अभियान का आगाज सोमवार से हो गया है।इस अभियान का शंखनाद पूर्व मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस के सुप्रीमो अजीत जोगी ने राजधानी से लगे ग्राम पंचायत मुजगहन से किया .

अजीत जोगी ने गांव में आलू- भाटा ने प्याज, नींबू आचार, टमाटर की चटनी और रखिया बड़ी की सब्जी के साथ बासी का लुत्फ उठाया।साथ ही जेसीसी सुप्रीमो अजीत जोगी ने अपने चुनाव चिन्ह वाला बिल्ला किसानों को लगाया.

ajit-jogi-this-village-lets-start-the-campaign-1
ajit-jogi-this-village-lets-start-the-campaign-1

इसके बाद जनता कांग्रेस के नेता और ग्राम पंचायत मुजगहन के सरपंच संदीप यदु के साथ पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने खेत मे उतरकर किसानों के साथ श्रमदान किया.

रोपाई-बोआई कर किसानों की मदद की।6 दिनों तक चलने वाले इस अभियान में जनता कांग्रेस के कार्यकर्ता पूरे प्रदेशभर में किसानों के साथ खेत में उतरकर उनकी मदद करेंगे.

बता दें कि अजीत जोगी 52 दिन दिल्ली में बिताने के बाद हाल ही में छत्तीसगढ़ लौटे हैं. चुनाव आयोग ने हल चलाता किसान चिन्ह उनकी पार्टी को आबंटित किया है, लिहाजा आंदोलन की शुरूआत खेत से शुरू करने की रणनीति के तहत खेत चलो अभियान शुरू किया गया.

बता दें कि इस अभियान के तहत जेसीसी के कार्यकर्ता हर दिन चार घंटे खेत में जाकर ब्यासी और रोपा के काम में किसानों का हाथ बटाएंगे. जब तक अभियान चलेगा एक खेत में कम से कम पार्टी के 10 सदस्य जाएंगे. वहां एक घंटा श्रमदान करने के बाद दूसरे खेत में जाएंगे.

आज से शुरू हुआ यह अभियान हरेली पर्व यानी 29 जुलाई को खत्म होगा. किसानों के साथ जेसीसी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता खेत में रोपाई और ब्यासी के काम में जुट गए.

खेत चलो अभियान के तहत जेसीसी के तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के साथ पूरा जोगी परिवार भी मैदान में कूद पड़ा है. अजीत जोगी खुद रायपुर के करीब मुजगहन में रोपाई करते दिखे, तो बेटे अमित जोगी बिलासपुर और बहू ऋचा राजनांदगांव में अभियान का हिस्सा बनीं. रविवार को ही अजीत जोगी ने ऋचा जोगी को राजनांदगांव का प्रभारी नियुक्त किया है.

new jindal advt tree advt
Back to top button