सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अखिलेश-मुलायम ने छोड़ा बंगला

लखनऊ : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी 4, विक्रमादित्य मार्ग स्थित अपना सरकारी बंगला खाली करना शुरू कर दिया। खबरों के मुताबिक, उनके बंगले का सामान गुरुवार देर शाम तक सहारा शहर शिफ्ट किया जाता रहा। साथ ही एसपी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने भी अपना 5, विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी बंगला खाली करना शुरू कर दिया है। हालांकि अभी इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि मुलायम अखिलेश के साथ सहारा शहर में ही रहेंगे या कहीं और वह अपना ठिकाना बनाएंगे।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस मिल चुका है। इनमें अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव का भी बंगला भी शामिल है। दोनों ने राज्य सम्पत्ति अधिकारी को पत्र लिखकर बंगला खाली करने के लिए दो साल का वक्त दिए जाने की मांग की थी। जब राज्य सम्पत्ति विभाग ने न्याय विभाग से सलाह लेकर उन्हें समय देने से इनकार कर दिया तो वे सुप्रीम कोर्ट चले गए। हालांकि अखिलेश ने अपने सरकारी बंगले से अपना सामान शिफ्ट करना शुरू कर दिया है। गुरुवार को भी पूरा दिन ट्रकों और अन्य वाहनों में भरकर सरकारी बंगले से बाहर जाता दिखा।

सहारा शहर से है पुराना लगाव : अखिलेश का सहारा शहर से पुराना लगाव है। 15 मार्च 2012 को जब वह मुख्यमंत्री बने थे तो उनके सम्मान में सहारा शहर में भोज रखा गया था। एसपी संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी अपने मुख्यमंत्रित्व काल से सहारा शहर आते-जाते रहे हैं। सहारा शहर सुरक्षा के लिहाज से काफी बेहतर भी है। सहारा शहर में ऊंची दीवारें हैं और चारों ओर तार के बाड़ लगे हुए हैं। कई जगह वॉच टॉवर भी हैं। बिना सुरक्षा जांच के कोई भी इसमें दाखिल नहीं हो सकता। माना जा रहा है कि जब तक अखिलेश को अपना कोई घर नहीं मिल जाता, तब तक वह यहां रह सकते हैं। हालांकि, अभी उन्होंने आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा नहीं की है।

new jindal advt tree advt
Back to top button