अखिलेश ने ठुकराया आरएसएस का न्यौता कहा- मेरे पास साहस नहीं

पैराग्राफ को पढ़कर, मेरे पास बैठक में भाग लेने का साहस नहीं

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यक्रम में जाने से इन्कार कर दिया है।

#विज्ञान भवन,#आरएसएस ,#भविष्य का भारत,#संघ का दृष्टिकोण

नई दिल्ली के विज्ञान भवन में कल से 19 सितंबर तक आरएसएस का तीन दिनी कार्यक्रम ‘भविष्य का भारत: संघ का दृष्टिकोण’ कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है।

इसके लिए संघ ने देश से तीन हजार लोगों को आमंत्रित किया है। अखिलेश यादव ने कहा कि आरएसएस के कार्यक्रम में जाने के लिए मेरे पास साहस नहीं है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे आरएसएस के बारे में ज्यादा ज्ञान नहीं है।

मैंने तो केवल देश के पूर्व गृहमंत्री सरदार पटेल के आरएसएस पर प्रतिबंध लगाने के बारे में पढ़ा है और उस पैराग्राफ को पढ़कर, मेरे पास बैठक में भाग लेने का साहस नहीं है।

उन्होंने कहा कि मैं हमेशा इस बात पर जोर देता हूं कि सभी को उन मामलों के बारे में कम से कम पढऩा चाहिए, जिसे सरदार पटेल ने प्रतिबंधित किया था।

यह सुनिश्चित करेगा कि उन्होंने जो कुछ भी उस समय कहा था, वह स्थिति आज भी बनी हुई है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने अपने इस कार्यक्रम में कई नामचीन हस्तिय़ों को न्यौता भेजा था।

इनमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडग़े, अखिलेश यादव, मायावती, ममता बनर्जी और चंद्रबाबू नायडू भी शामिल हैं।

इस कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत सभी लोगों से संवाद करेंगे।

Tags
Back to top button