अली फजल ने कहा जुडी डेंच संग मेरी जिंदगी भर की दोस्ती

रानी विक्टोरिया और उनके भारतीय नौकर अब्दुल करीम पर आधारित फिल्म ‘विक्टोरिया और अब्दुल’ के अभिनेता अली फजल ने कहा कि उनकी प्रतिष्ठित अभिनेत्री जुडी डेंच के साथ कभी न खत्म होने वाली दोस्ती हुई है। फिल्म में ब्रिटिश राज की कुरूपता को न दिखाए जाने से भारतीय आलोचक नाराज हैं।

अली ने रविवार को कहा, “इस बारे में झमेला क्या है? अब्दुल एक किरदार है जो मैंने निभाया है। और फिल्म मैंने सबकुछ किया है। यहां तक कि रानी के पैर भी चूमे हैं। मैंने रानी विक्टोरिया के लिए लिखे गए अब्दुल करीम के पत्रों को पढ़ा है। वे बस अद्भुत हैं, वास्तव में प्रेरक हैं। मैं रानी के प्रति उनकी निष्ठा से बहुत प्रभावित हुआ था।”

उन्होंने कहा, “हम सब जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं। लेकिन मैं जानता हूं कि अब्दुल रानी विक्टोरिया का काफी ध्यान रखते थे और मेरा सौभाग्य है कि मैंने जुडी डेंच के साथ एक रिश्ता बनाया और मैं उम्मीद करता हूं कि फिल्म की तरह ही हमारा रिश्ता असल जीवन में भी स्थायी बना रहेगा।”

अली मानते हैं कि रानी विक्टोरिया और अब्दुल करीम को उनके समकालीनों द्वारा गलत समझा गया था और दर्शकों के एक वर्ग द्वारा भी गलत समझा गया है।

अली ने कहा, “वह सिर्फ रानी को खुश देखना चाहता था। और रानी को अपने अंतिम वर्षो में उनके माध्यम से जीवन जीने की प्रेरणा मिली।”

अली ने जुडी के साथ फिल्म की शूटिंग और प्रमोशन के बारे में कहा, “हम काफी समय साथ रहे, केवल शूटिंग ही नहीं प्रमोशन क दौरान भी। मैंने देखा कि अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोहों में उन्होंने मेरे प्रति कितना प्यार दिखाया। इसने मुझे काफी प्रभावित किया।”

अली ने आगे कहा, “मैं समझता हूं कि फिल्म के बाद भी हम दोनों में एक रिश्ता बन गया है। मैं उनसे नवंबर में मिलने वाला हूं। हमारा मैनेजर भी एक है। तो हमें एक-दूसरे से मिलने के काफी मौके मिलेंगे। मेरी जुडी डेंच के साथ कभी न खत्म होने वाली दोस्ती हुई है।

Back to top button