राष्ट्रीयहेल्थ

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद ने निसर्ग हर्ब्स के साथ किया समझौता

परीक्षण को फरीदाबाद के ESIC अस्पताल में किया जाएगा

नई दिल्ली: ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद (AIIA) ने निसर्ग हर्ब्स नाम की कंपनी के साथ समझौता किया है. AIIA की निदेशक डॉ तनुजा नेसारी इस अनुसंधान की प्रमुख परीक्षणकर्ता होंगी. उनके साथ ESIC अस्पताल के डीन डॉ असीम सेन भी साथ होंगे. इस टीम में AIIA और ESIC के 6 और डॉक्टर शामिल होंगे.

ये दोनों संस्थाएं ये परीक्षण करेंगी कि कोरोना से लड़ने में नीम कितना कारगर है. इस परीक्षण को फरीदाबाद के ESIC अस्पताल में किया जाएगा. ये टीम 250 लोगों पर इस बात का परीक्षण करेगी कि नीम के तत्व कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने में कितना कारगर है. इस रिसर्च में मुख्य रूप से ये पता किया जाएगा कि नीम के कैप्सूल कोरोना मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों को इस बीमारी से दूर रखने में कितना प्रभावी हैं.

इस परीक्षण के लिए जिन लोगों पर कैप्सूल का परीक्षण किया जाएगा उनका चयन शुरू हो चुका है. इस प्रक्रिया में 125 लोगों को नीम कैप्सूल दिया जाएगा, जबकि 125 लोगों को खाली कैप्सूल खाने के लिए दिया जाएगा. ये प्रक्रिया 28 दिनों तक चलेगी. इसके बाद 28 दिनों तक रोगियों का निरीक्षण किया जाएगा और दवाओं के असर को समझा जाएगा.

निसर्ग बायोटेक के संस्थापक और सीईओ गिरीश सोमन ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि उनकी ये दवा कोरोना की रोकथाम में असरदार एंटी वायरल दवा साबित होगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button