अंतरिक्ष में हमले का मिलकर जवाब देने को तैयार हैं NATO के सभी सदस्य

ब्रुसेल्स: नाटो (उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन, NATO) के नेताओं ने सोमवार को आपसी रक्षा प्रावधान ‘एक के लिए सबके लिए एक’ का विस्तार करते हुए अंतरिक्ष में हमले का सामूहिक जवाब देने पर सहमति जताई। नाटो के समझौते के तहत अनुच्छेद 5 के अनुसार इसके 30 सहयोगियों में से किसी एक पर भी यदि हमला होता है तो यह सबके लिए माना जाएगा।) अब तक यह केवल पारंपरिक सैन्य हमलों जैसे जल, थल व वायु से संबंधित था लेकिन हाल ही में इसमें साइबर हमलों को भी शामिल गया था।

एक समिट में नेताओं ने कहा कि अंतरिक्ष के भीतर या वहां से किए गए हमले नाटो के लिए चुनौती हो सकते हैं जो राष्ट्रीय और यूरो-अटलांटिक सौहार्द्रता, सुरक्षा व स्थिरता पर खतरा हो सकता है। नाटो के महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने एक समिट में कहा, ‘मैं समझता हूं कि हमारा अनुच्छेद पांच बेहद महत्वपूर्ण है, जिसके तहत, किसी एक पर हुए हमले को सभी पर हमला माना जाएगा ओर हम सब प्रतिक्रिया देंगे। इस शिखर सम्मेलन में हम इस बात को भी साफ करेंगे कि अंतरिक्ष से संबंधित हमलों को भी अनुच्छेद पांच के अंतर्गत माना जाएगा।’ पृथ्वी की परिक्रमा करने वाले करीब 2000 में से आधे उपग्रहों का संचालन नाटो देशों के पास है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button