बिज़नेसराष्ट्रीय

इस महीने 16 दिनों के लिए बंद रहेंगे भारत के सभी सार्वजनिक और निजी बैंक

भारतीय रिज़र्व बैंक ने हाल ही में वर्ष 2021 के लिए बैंक अवकाश सूची जारी की

नई दिल्ली: भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने हाल ही में वर्ष 2021 के लिए बैंक अवकाश सूची जारी की है. जिसके अनुसार भारत के सभी सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंक जनवरी 2021 में 16 दिनों के लिए बंद रहेंगे. इसमें पांच रविवार और दूसरे और चौथे शनिवार शामिल हैं.

26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस को बैंक बंद रहेंगे जो कि जनवरी महीने में एकमात्र राष्ट्रीय अवकाश है. 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर कोलकाता में बैंक बंद रहेंगे. मकर संक्रांति का त्योहार 14 जनवरी को है इसलिए गंगटोक, अहमदाबाद और हैदराबाद में बैंक बंद रहेंगे.

20 जनवरी को गुरु गोविंद सिंह की जंयती पर चंडीगढ़ में बैंक बंद रहेंगे. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर देश भर में बैंक बंद रहेंगे. लेकिन मोबाइल और इंटरनेट बैंकिंग सामान्य रूप से चालू रहेगी.

जनवरी 2021 में राष्ट्रीय बैंक छुट्टियों की लिस्ट निम्नलिखित है: – 1 जनवरी 2021- नए साल के अवसर पर मेघालय, मणिपुर, सिक्किम, तमिलनाडु व मिजोरम में बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहा. 2 जनवरी 2021 -नए साल के जश्न पर मिजोरम में बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहा.

3 जनवरी 2021- रविवार के चलते बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहेगा 9 जनवरी 2021- दूसरे शनिवार के कारण बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहेगा. 10 जनवरी 2021- साप्ताहिक अवकाश (रविवार) 12 जनवरी 2021 – स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर पश्चिम बंगाल में बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहेगा.

14 जनवरी 2021 – मकर संक्रांति के अवसर पर गंगटोक, अहमदाबाद और हैदराबाद में बैंक बंद रहेंगे. 15 जनवरी 2021 – तिरुवल्लुवर दिवस, माघ बिहू और टुसू पूजा के अवसर पर 15 जनवरी को हैदराबाद में बैंक बंद रहेंगे. 16 जनवरी 2021 – उझावर थिरुनल के अवसर पर तमिलनाडु में बैंक बंद रहेंगे.

17 जनवरी 2021- रविवार 20 जनवरी 2021 – गुरु गोविंद सिंह जयंती के मौके पर चंडीगढ़ में बैंक बंद रहेंगे. 23 जनवरी 2021- चौथा शनिवार 24 जनवरी 2021- रविवार 25 जनवरी 2021-इमोइनु इरपा के मौके पर मणिपुर में बैंकों का सार्वजनिक अवकाश रहेगा. 26 जनवरी 2021- गणतंत्र दिवस पर सभी बैंक बंद रहेंगे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button