SC के चीफ जस्टिस समेत सभी जज करेंगे 25-25 हजार दान

केरल की मदद को बढ़े हाथ

नई दिल्ली: केरल में आए बाढ़ पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने सोमवार को चिंता जताई हैं. सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को एक मामले की सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि हम भी अपनी तरफ से मदद कर रहे हैं, चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि सभी 25 जज 25-25 हजार रूपए केरल बाढ़ राहत कार्य के लिए केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में दान करेंगे. ये बात तब उठी, जब कोर्ट जजों पर गलत आरोप लगाने वाले एक याचिकाकर्ता पर जुर्माना लगाने की बात कर रहा था. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा का कहना था कि रकम केरल बाढ़ सहायता के लिए जमा करवाई जाए.

दरअसल, केरल के लोगों की मदद करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस केएम जोसेफ आगे आए थे. कुछ वकीलों द्वारा राहत सामग्री वसूलने के लिए पहुंचने पर कोर्ट के सामने कलेक्शन प्वाइंट पर पहुंचकर दोनों जजों ने दान दिया था. इन जजों ने कितना दान दिया इसका खुलासा तो नहीं हो पाया था, लेकिन बताया गया था कि इन जजों ने केरल में राहत के लिए अच्छी रकम दान में दी थी.

बता दें कि अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने केरल में आए भयंकर तबाही से निपटने के लिए केरल के मुख्यमंत्री आपदा कोष में एक करोड़ रुपये दिए थे. अटार्नी जनरल के पुत्र और वरिष्ठ वकील कृष्णन वेणुगोपाल ने भी 15 लाख रुपये मुख्यमंत्री आपदा कोष में दिया था. वरिष्ठ वकील सीयू सिंह ने पांच लाख रुपये दिए थे. सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (एससीबीए) तीस लाख रुपये रुपये पहले ही दे चुका है. एससीबीए ने वकीलों से केरल में हुई तबाही से निपटने के लिए वकीलों से मदद का आह्वान किया था.

केरल सरकार के स्टैंडिंग काउंसलर जयदीप गुप्ता ने भी दस लाख रुपये दिए थे. ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन के दिल्ली स्टेट ने भी 20 अगस्त को दिल्ली की सभी अदालतों में केरल के लोगों के लिए राहत सामग्री और फंड एकत्र करने का फैसला किया था. ऑल इंडिया लायर्स युनियन के दिल्ली स्टेट के सचिव सुनील कुमार ने केंद्र सरकार और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से आपदा की इस घड़ी में दिल खोलकर मदद करने की अपील की थी.

Back to top button