छत्तीसगढ़

रेगुलर छात्रों के साथ साथ प्राइवेट छात्रों को भी किया जाए पास: NSUI

नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया के प्रदेश सचिव सोहैल खान ने विश्वविद्यालय प्रशासन व राज्य शासन से अपील की है

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता: प्रणव कुमार

देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार ने पूर्ण लॉक डाउन का निर्णय लिया था जिसके चलते सभी संस्थाने स्कूल कॉलेज आदि सभी बंद पड गए थे कोरोना वायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में सरकार ने फैसला किया है कि प्रथम व द्वितीय वर्ष के रेगुलर छात्रों को जनरल प्रमोशन दिया जाना चाहिए जिसके बाद से ही प्राइवेट छात्रों के मन में परीक्षा और पढ़ाई को लेकर असमंजस की स्थिति है। इसी मुद्दे को लेकर नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया के प्रदेश सचिव सोहैल खान ने विश्वविद्यालय प्रशासन व राज्य शासन से अपील की है की प्राइवेट छात्रों को भी जनरल प्रमोशन का लाभ दिया जान चाहिए

यह भी पढ़ें:-पूर्व केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय बने छत्तीसगढ़ BJP के नए अध्यक्ष  

इस पर तर्क देते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में अटल विश्वविद्यालय के अंतर्गत लगभग 60 – 80 हजार प्राइवेट छात्र पंजीबद्ध है। वही प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में इनकी संख्या करीब 5 लाख के आसपास है. ऐसे में संभावना है कि बड़ी संख्या में विद्यार्थियों की परीक्षा ली जा सकती है जो कि ऐसे हालात में सही नही है

 

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण से प्रभावित मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है, ऐसे में विशेषज्ञों का कहना है कि आगामी तीन से चार महीनों तक किसी बड़ी परीक्षा का आयोजन संभव नहीं. क्योंकि शैक्षणिक सत्र आगामी पखवाड़े भर में शुरू होने को है. ऐसे में 3 से 4 महीने बाद परीक्षा के आयोजन होने की आशंका से छात्रों को पूरा साल बर्बाद होने का डर सता रहा है.

यह भी पढ़ें:-मध्यप्रदेश: कलेक्टर ने ऑटो रिक्शा/टैक्सी के लिए दिशा निर्देश जारी किये 

एनएसयूआई प्रदेश सचिव का कहना है कि सामान्यतः प्राइवेट पद्धति के माध्यम से परीक्षा देने वाले ज्यादातर छात्र ग्रामीण क्षेत्र के होते हैं, उनमें से अधिकांश पढ़ाई के साथ साथ छोटा-मोटा रोजगार कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं. लॉक डाउन की इन कठिन परिस्थितियों के बीच अगर परीक्षा हुई तो छात्रों को समस्या का सामना करना पड़ सकता है और यह निर्णय कोरोना संक्रमण के खतरे को भी बढ़ सकता है

ऐसे में नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया के प्रदेश सचिव सोहैल खान का मन्ना है कि छात्रों के हित के लिए सभी प्रथम व द्वितीय वर्ष के रेगुलर व प्राइवेट विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन देना चाहिए

Tags
Back to top button