बुजुर्गों में बढ़ती बेचैनी बन सकती है अल्जाइमर का कारण

बुजुर्गों में बढ़ती बेचैनी बन सकती है अल्जाइमर का कारण

हाल ही में हुए एक शोध में बुजुर्गों का लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। रिसर्च में साफ हुआ है कि बुजुर्गों में अल्जाइमर का शुरुआती लक्षण बेचेनी भी हो सकता है। अगर आपके घर में किसी बुजुर्ग को अत्यधिक बेचैनी और घबराहट महसूस हो रही है तो सावधान हो जाएं क्योंकि ये सभी अल्जाइमर रोग के शुरुआती संकेत हैं। अल्जाइमर एक न्यूरोडिजेनेरेटिव स्थिति है जिससे संज्ञानात्मक क्षमता में कमी आती है और इससे पीड़ित शख्स को दैनिक जीवन के कार्य में भी समस्या का सामना करना पड़ता है।

निष्कर्षों से पता चला है कि बुजुर्गो में बेचैनी बढ़ने के लक्षण एमिलॉइड बीटा स्तरों में वृद्धि के साथ जुड़े हो सकते हैं जो अल्जाइमर रोग के बढ़ने का एक प्रमुख कारक है। इस अध्ययन की मुख्य लेखक व बॉस्टन में वृद्धों की मनोचिकित्सक नैन्सी डोनोवन ने कहा, शोध के दौरान जब अवसाद के अन्य लक्षणों जैसे दुख और एकाग्रता में कमी से तुलना की गई तो घबराहट के लक्षण मस्तिष्क में बीटा स्तर बढ़ने से जुड़े पाए गए।

उन्होंने कहा, इससे पता चलता है कि संज्ञानात्मक क्षीणता से पहले बेचैनी के लक्षण अल्जाइमर रोग के शुरू होने के लक्षण हो सकते हैं। यह शोध ‘द अमेरिकन जर्नल ऑफ साइक्रियेट्री’ में प्रकाशित हुआ है।

advt
Back to top button