अमर अग्रवाल के बंगले पर 3 मंत्रियों का दावा

बृजमोहन का किसी ने मांगा ही नहीं

रायपुर. विभागों की जिम्मेदारी संभालने से पहले राज्य सरकार के मंत्रियों ने राजधानी के वीवीआइपी बंगलों पर अपना दावा ठोक दिया है।

शंकर नगर स्थित सी-4 बंगले की मांग कृषि एवं जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री रविंद्र चौबे, उच्च, तकनीकी शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल और राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने की है। संपदा विभाग ने यह बंगला रविंद्र चौबे को आवंटित किया है। इससे पहले यह बंगला अमर अग्रवाल के पास था।

बता दें कि उसी के बगल में स्थित बी-5/1 बंगला किसी ने मांगा ही नहीं है। यह बंगला पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल को आवंटित है। वन कॉलोनी राजातालाब स्थित बंगले, सी-1 के लिए भी किसी ने आवेदन नहीं किया है।

पूर्व सरकार में यह बंगला पुन्नूलाल मोहले को आवंटित था। शांति नगर में ही सी-2 14 और 15 नंबर का बंगला भी किसी मंत्री ने नहीं मांगा है। यह बंगला दयालदास बघेल के पास था। नए मंत्रियों में उमेश पटेल ने दूसरे विकल्प के तौर पर शांति नगर का सी-5 बंगला मांगा है, जिसके लिए आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने भी मांग भेजी है।
बताया जा रहा है कि यह बंगला कवासी लखमा को ही आवंटित किया जा रहा है। इससे पहले यह बंगला नेता प्रतिपक्ष ही हैसियत से टीएस सिंहदेव के पास था। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्र कुमार ने अभी तक आवास की कोई मांग ही नहीं भेजी है।

इन मंत्रियों को आवंटित हुए मकान
– टीएस सिंहदेव – डी-8, सिविल लाइंस, पहले राजेश मूणत के पास था।
– ताम्रध्वज साहू – सी-3, सिविल लाइंस, पहले अजय चंद्राकर के पास था।
– रविंद्र चौबे – सी -4, सिविल लाइंस, पहले अमर अग्रवाल के पास था।
– प्रेमसाय सिंह – डी-7/8, शंकर नगर, पहले महेश गागड़ा के पास था।
– अनिला भेडिय़ा – सी-3/4, वन कॉलोनी, राजा तालाब, पहले केदार कश्यप के पास था।
– मोहम्मद अकबर- बी-5/10, शंकर नगर, पहले रामसेवक पैकरा के पास था।

advt
Back to top button