राष्ट्रीय

अमरिंदर सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह से इन हालातों से जल्दी निपटने का किया आग्रह

पंजाब पुलिस ने तरण-तारण जिले में 4 खालिस्तानी आतंकवादियों को किया गिरफ्तार

अमृतसर: पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के जरिये पंजाब में भारी संख्या में हथियार गिराए जाने की घटना के बाद पंजाब में हड़कंप मच गया है। इस बड़ी घटना के बाद पंजाब सरकार हरकत में आ गई है।

इस बड़े आतंकी हमले की तैयारी माना जा रहा है। खास बात यह है कि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले से निपटने की तैयारी कर ली है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह से इन हालातों से जल्दी निपटने का आग्रह किया।

कैप्टन ने इसे लेकर एक ट्वीट किया, इसमें उन्होंने लिखा, ‘ पाकिस्तान के ड्रोन का इस्तेमाल कर हथियारों और कारतूसों की खेप गिराने की हालिया घटना कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद पाकिस्तान के नापाक मंसूबों को उजागर करता है। मैं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से इससे जल्द से जल्द निपटने का आग्रह करता हूं।’

बता दें कि पंजाब पुलिस ने पिछले दिनों दावा किया था कि इस महीने पाकिस्तान की ओर ड्रोन द्वारा आठ बार हथियार गिराने की कोशिश की गई है। यह मामला राज्य में खालिस्तानी आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश होने के बाद सामने आया है।

इस मुद्दे पर पंजाब के मुख्यमंत्री का ताजा बयान पंजाब पुलिस द्वारा खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (KZF) के एक आतंकवादी मॉड्यूल का पर्दाफाश करने के दो दिन बाद आया है। इस दौरान पंजाब पुलिस ने तरण-तारण जिले में 4 खालिस्तानी आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था। इनके पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए थे। पुलिस ने बताया कि इन हथियारों की सप्लाई तीन चार हफ्ते पहले भारतीय एयरस्पेस का उल्लंघन करके ड्रोन की मदद से हुई।

आतंकवादी हमले कराने की साजिश

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, आतंकवादी समूह ने पंजाब और आसपास के राज्यों में आतंकवादी हमले कराने की साजिश रच रहा था। पुलिस ने कार्रवाई के दौरान 5 एके -47 राइफल, पिस्तौल, सैटेलाइट फोन और हथगोले सहित भारी मात्रा में हथियार जब्त किए हैं।

एनआईए को जांच सौंपने का फैसला

इस बीच, सीएम अमरिंदर सिंह ने मामले में आगे की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी(NIA) को सौंपने का फैसला किया है, क्योंकि मॉड्यूल को अंतरराष्ट्रीय लिंक होने का संदेह है। पंजाब के पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने कहा, ‘यह हथियार सीमा के पार पाकिस्तान से आए हैं। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई, राज्य- प्रायोजित जिहादी और खालिस्तानी आतंकवादी संगठन इस नापाक मंसूबे को अंजाम देने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।

Tags
Back to top button