अमरनाथ यात्रा : बारिश के चलते भूस्खलन, श्रद्धालुओं की जत्थे रुकी

देशभर से बाबा बर्फानी का दर्शन करने आए श्रद्धालु भारी बारिश में कैम्पों में ठहरे हुए हैं.

जम्मू : अमरनाथ यात्रा की शुरुआत से ही जम्मू-कश्मीर में लगातार भारी बारिश हो रही है. बारिश के चलते भूस्खलन की कई घटनाएं सामने आ रही हैं. सुरक्षा एहतियात की वजहसे प्रशासन ने यात्रियों के जत्थे को जहां-तहां कैम्पों में रोक दिया है.

देशभर से बाबा बर्फानी का दर्शन करने आए श्रद्धालु भारी बारिश में कैम्पों में ठहरे हुए हैं.

खराब मौसम की वजह से श्रद्धालुओं को रोक दिया गया है. ये तस्वीर जम्मू के भगवती नगर में एक यात्री निवास कैम्प की है. बाबा के श्रद्धालुओं पर मौसम की मार का कोई खौफ नहीं है. उनका जोश देखते ही बनता है.

हालांकि लगातार बारिश की वजह से श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है. लेकिन तीर्थयात्री कैम्प में प्रशासन श्रद्धालुओं की परेशानियों से निपटने की कोशिशों में लगा हुआ है.

अमरनाथ यात्रा पर आए श्रद्धालुओं की सुविधाओं का खास ख्याल रखा जा रहा है. अमरनाथ यात्रियों के लिए लंगर की व्यवस्था भी है. कई लोग लंगर के जरिए श्रद्धालुओं की मदद कर रहे हैं.
जम्मू में भारी बारिश के चलते भगवती नगर यात्री निवास से घाटी की ओर किसी भी वाहन को जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है. श्रद्धालु इस तरह यात्री कैम्प बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए यात्रा शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं.

बता दें कि 28 जून को यात्रा शुरू हुई थी. लेकिन पहले दिन से बारिश हो रही है. भारी बारिश की वजह से सड़कों की हालत खराब हो गई है. बालटाल और पहलगाम दोनों मार्गों से यात्रा को रोकना पड़ा है. कुछ जगहों पर यात्रा का रूट भी बह गया है.

60 दिन की इस यात्रा के लिए अभी तक दो लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है. इस यात्रा का समापन 26 अगस्त को होगा.

Back to top button