अंतर्राष्ट्रीयबिज़नेसराष्ट्रीय

Amazon ने दिल्ली हाईकोर्ट में दाखिल की याचिका, की ये मांग

याचिका में Future-Reliance ग्रुप के Contract पर रोक लगाने की मांग की गई

नई दिल्ली: Future-Reliance ग्रुप के Contract पर रोक लगाने की मांग को लेकर अमेरिकी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी Amazon ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है. Amazon और Future ग्रुप की पहले Partnership थी लेकिन बाद में फ्यूचर ग्रुप ने Reliance के साथ सौदा कर लिया.

याचिका में Amazon ने Future ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी किशोर बियानी समेत दूसरे संस्थापकों की गिरफ्तारी, उनकी संपत्तियों को जब्त करने और समूह का कारोबार रिलायंस इंडस्ट्रीज को बेचने के करार को रोकने की मांग की है.

Amazon ने दिल्ली हाईकोर्ट से सिंगापुर की मध्यस्थता अदालत के आदेश को लागू कराने की गुहार लगाई है. विवाद के निपटारे तक अमेरिकी ऑनलाइन कारोबारी कंपनी Amazon ने फ्यूचर समूह की कंपनियों के निदेशकों को सिविल जेल में डालनी की मांग की है.

Future ग्रुप का क्या कहना है Future ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) किशोर बियानी का कहना है कि साझेदारी के बावजूद Future ग्रुप के कर्ज को बोझ से निकालने के लिए Amazon की तरफ से समय रहते मदद नहीं आई. कर्ज चुकाने के लिए Future ग्रुप को मजबूरी में रिलायंस को कंपनी का कारोबार बेचने का फैसला करना पड़ा.

Amazon की याचिका के खिलाफ फ्यूचर ग्रुप का कहना है कि वो इस मामले में वकीलों से सलाह के बाद कोर्ट में जवाब दाखिल करेगा. Future-Reliance ग्रुप डील पिछले साल अगस्त के महीने में फ्यूचर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के बीच एक डील हुई थी.

इस डील में फ्यूचर ग्रुप ने अपनी संपत्ति 24,713 करोड़ में रिलायंस इंडस्ट्रीज को बेचने का फैसला किया था. इस डील को सेबी (SEBI) की मंजूरी भी मिल गई है लेकिन Amazon को इस डील पर ऐतराज है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button