इलाहाबाद में अंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने से तनाव

उत्तर प्रदेश के शहर इलाहाबाद में कल संविधान निर्माता डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर की मूर्ति तोड़ने का मामला सामने आया है । इलाहबाद के झूंसी इलाके में त्रिवेणीपुरम इलाके में मूर्ति तोड़े जाने से तनाव फैल गया है। यह मूर्ति त्रिवेणीपुरम इलाके के एक पार्क में लगी हुई थी।

इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश के शहर इलाहाबाद में कल संविधान निर्माता डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर की मूर्ति तोड़ने का मामला सामने आया है । इलाहबाद के झूंसी इलाके में त्रिवेणीपुरम इलाके में मूर्ति तोड़े जाने से तनाव फैल गया है। यह मूर्ति त्रिवेणीपुरम इलाके के एक पार्क में लगी हुई थी।

इलाहाबाद के झूंसी त्रिवेणीपुरम इलाके में असामाजिक तत्वों ने बीती रात अंबेडकर की मूर्ति का सर वाला हिस्सा तोड़ दिया । सुबह लोगों ने यह देखा तो इसे लेकर वहां हंगामा खड़ा हो गया ।
इलाहाबाद के पुलिस अधीक्षक ने मीडिया से बात चीत में कहा कि इस घटना को माहौल बिगाड़ने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। कोई गड़बड़ी न हो इसलिए इलाके में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फूलपुर से सपा सांसद नागेंद्र पटेल ने घटना को निंदनीय बताते हुए सरकार से कड़ी कार्यवाई की अपेक्षा की है।

‘राम’ नाम जोड़े जाने के दो दिन बाद ही मूर्ति खंडित

उत्तर प्रदेश में बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के नाम में ‘राम’ शब्द जोड़े जाने के दो दिन बाद ही हुई इस घटना के बाद पूरे इलाके में भारी तनाव व्याप्त है। बाबा साहब की मूर्ति का ऊपर का हिस्सा तोड़ कर जमीन पर फेंक दिया गया था। उधर एक अन्य घटना में सिद्धार्थ नगर जिले से भी आंबेडकर कि मूर्ति तोड़े जाने का मामला सामने आया है। पुलिस दोनों मामलों की जांच कर रही है।

advt
Back to top button