अंतर्राष्ट्रीय

अमेरिका में 140 बच्चो की बलि मिलने की हकीक़त – पढ़े पूरी खबर

अमरीकी देश के पेरू में उत्तरी तट पर आर्कियोलॉजिस्ट की एक टीम ने खुदाई के दौरान करीब 140 बच्चे के अवशेष मिले हैं। यह मानव इतिहास कि सबसे बड़ा केस बताया जा रहा है, जब इतनी मात्रा में अवशेष पाए गए हैं

अमरीकी देश के पेरू कमें उत्तरी तट पर आर्कियोलॉजिस्ट की एक टीम ने खुदाई के दौरान करीब 140 बच्चे के अवशेष मिले हैं। यह मानव इतिहास कि सबसे बड़ा केस बताया जा रहा है, जब इतनी मात्रा में अवशेष पाए गए हैं। आर्कियोलॉजिस्ट रिसर्च टीम का मानना है कि कि इनकी पसलियां तोड़कर इनके दिल बाहर निकाल लिए गए थे और यह किसी धार्मिक बलि जैसा प्रतित होता है। रिसर्च टीम को खुदाई के दौरान 200 लामा (एक तरह का जानवर) के अवशेष भी मिले हैं।

5 से 14 साल बच्चों के अवशेष आर्कियोलॉजिस्ट टीम ने शुक्रवार को कहा कि जिन 140 बच्चों के कंकाल मिले हैं, उनकी उम्र 5 से 14 साल के बीच है। रिसर्च टीम की मानें तो करीब 550 साल पहले बच्चों की बलि दी गई थी।

नेशनल यूनिवर्सिटी त्रुजिलो में आर्कियोलॉजिस्ट प्रोफेसर गैब्रियर प्रियटो बताते हैं कि बच्चों को एक धार्मिक बलि के रूप में त्याग करना पड़ा क्योंकि वे ही अगले भविष्य का प्रतिनिधित्व करते थे। प्रियटो ने कहा कि शोधकर्ताओं ने पैरों के निशान भी पाए हैं जो बारिश और कटाव से बच गए हैं, जो पौराणिक शहर चान चान से करीब 1.5 किमी तक चलकर अपनी मौत के लिए पैदल चलकर गए थे। रिपोर्ट के अनुसार, इन अवेशषों को देखकर लगता है कि बच्चों के दिल को निकालने के लिए उनके पेट और पसलियों को काटा गया था।

2011 में भी मिले थे अवशेष रिपोर्ट के अनुसार, इन अवशोषों में लड़के और लड़कियां दोनों शामिल है। हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पुरातत्व और एथ्नोलॉजी के पीबॉडी संग्रहालय के निदेशक जेफरी क्लिटर ने इसे ‘उल्लेखनीय खोज’ के रूप में बताय है। पेरू में 2011 में भी खुदाई के दौरान 76 लामाओं और 42 बच्चों के अवशेष पाए गए थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
अमेरिका में 140 बच्चो की बलि मिलने की हकीक़त - पढ़े पूरी खबर
Author Rating
51star1star1star1star1star
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.