अमेरिका को भारत का बड़ा झटका, आयात वस्तु पर लगाया कर

कुछ दिनों पहले अमेरिका ने भारत से निर्यात होनें वाले एल्युमिनियम व स्टील पर शुल्क को बढ़ाया था।

नॅशनल : अमेरिका ओर चीन के बीच चल रहे व्यापार युद्द से भारत पर भी असर पड़ा है। इसी के चलते भारत ने भी अमेरिका से आयातित होनें वाली कई वस्तुओं पर शुल्क लगाकर अमेरिका को कड़ा संदेश दिया है।

आर्थिक सलाहकारों के अनुसार व्यापार समझोतों के इस दौर में यह ट्रेड़ वार की शुरूआत बताई जा रही है। कुछ दिनों पहले अमेरिका ने भारत से निर्यात होनें वाले एल्युमिनियम व स्टील पर शुल्क को बढ़ाया था। जिससे भारत को करीब सवा चार करोड डॉलर का नुकसान हुआ था.

वहीं भारत ने इसके जवाब में अमेरिका से आयातित होनें वाले चने छोले व मसूर दाल सहित कई खाने पीने की चीजों पर आयात शुल्क बढा दिया है। वहीं इसे लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मुझे फोन कर बताया कि वह अमेरिका निर्मित बाइक होर्ली डेविडसन पर शुल्क कम कर रहै है।

तो मेने उनके प्रतिउत्तर में कहा कि ठीक है। लेकिन उन्होंने अभी तक कुछ किया नहीं है। उसका मतलब यह होता है कि उन्होंने श्रेय तो ले लिया पर कुछ दिया नहीं है मेंरी नजर में इसे मदद नहीं कहते है। भारत के इस फैसले को लेकर ट्रंप ने सार्वजनिक रूप से नाराजगी जताई थी।

वहीं गुरूवार को जारी बयान के बाद उन्होंने थोड़ी खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि भारत अमेरिका से आयातित होनें वाली 800 सीसी तक की बाईक्स पर कोई ड्यूटी नहीं बढाएगा। आपकों बता दें कि भारत के इस आयात शुल्क बढाने से देश को सालाना करीब 24 हजार डॉलर से भी ज्यादा का फायदा होगा।

अब देखने वाली बात यह है कि व्यापार युद्द का यह दौर विश्व को किस दिशा में लेकर जाएगा साथ ही इसका क्या असर होगा। इसे लेकर अभी तो कुछ कहा नहीं जा सकता है। हालांकि भारत के इस कड़े जबाव से ये साफ तौर पर जाहिर होता है कि भारत अपने आर्थिक मामलों में कोई समझोता नहीं करेगा।

Back to top button