इस कानून को समाप्त करने की मांग को लेकर अमित जोगी ने सीएम को लिखा पत्र

इस कानून को समाप्त करने की मांग को लेकर अमित जोगी ने सीएम को लिखा पत्र

रायपुर :  भूमि डायवर्सन कानून से मुक्ति दिलाने को लेकर मारवाही विधायक अमित जोगी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है अमित  जोगी ने मांग की है कि इस कानून ने लोगों को मुक्त किया जाये ।

उन्होंने कहा है कि इससे दलाली और भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है और जमीन की कीमतों में असमानता है। किसानोंए लघु एवं मध्यम व्यापारियों समते सम्पूर्ण प्रदेश के विकास में बाधा पैदा हो रही है।

जोगी ने कहा है कि एमपी सरकार की तरह छत्तीसगढ़ की सरकार को भी इस नियम को समाप्त करना चाहिए। अमित जोगी ने पत्र में लिखा है कि भू.राजस्व सहिता की धारा 172 तहत भूमि व्यपवर्तन कानून प्रभावशील है।

जिसमें वाणिज्यक प्रयोग के तहत किसी भी परिसर के उपयोग में आंशिक रुप से निवास एवं आंशिक रुप से व्यवसाय को भी वाणिज्यक उपयोग में शामिल किया गया है। जिसके कारण आम लोगों को डायवर्सन के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। राज्य में कई मामले सालों से लंबित है जिनका निराकरण नहीं हो पा रहा है।

डायवर्सन के अभाव में लोगों को बैंकों से कर्ज नहीं मिल पा रहा है। किसानों को भी कृषि ऋण के लिए निर्धारित सीमा के अंतर्गत ही अल्प ऋण प्राप्त हो पाता है। उन्होंने लेटर में लिखा है कि जिस तरह मध्यप्रदेश सरकार ने डायवर्सन को तकलीफें देखते हुए समाप्त कर दिया है। उसी तरह राज्य सरकार को भी इसे समाप्त कर देना चाहिए।

advt
Back to top button