अमित शाह के ध्व-जारोहण करते समय गिर गया तिरंगा

कांग्रेस ने कसा तंज- जो देश का झंडा नहीं संभाल सकते, वो देश क्या संभालेंगे ?

नई दिल्लीः आज पूरा देश आजादी की 72वीं वर्षगांठ मना रहा है और देश में जगह-जगह राष्ट्रीय ध्वज फहराकर इस आजादी का उत्सव मनाया जा रहा है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी भाजपा मुख्यालय में तिरंगा फहराकर इस दिन को सेलिब्रेट किया। जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह तिरंगा फहरा रहे थे, वहीं पूरा भाजपा मुख्यालय भारत माता की जय, जय हिंद जैसे नारों से गूंज रहा था। दरअसल जब अमित शाह तिरंगा फहराने के लिए डोरी खींच रहे थे, तो अचानक तिरंगा नीचे आ गया। हालांकि तुरंत ही अमित शाह ने स्थिति संभालते हुए डोरी को खींचा और तिरंगा वापस अपनी जगह पर पहुंच गया।

लेकिन इस घटना से भाजपा और अमित शाह के विरोधियों को मौका मिल गया कि वह भाजपा अध्यक्ष पर निशाना साध सकें। खास बात है कि इस घटना को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने तुरंत ट्वीट कर दिया और इस घटना का वीडियो भी पोस्ट कर दिया। अपने इस ट्वीट के साथ कांग्रेस पार्टी ने लिखा कि “जो देश का झंडा नहीं संभाल सकते, वो देश क्या संभालेंगे ? 50 साल से ज्यादा देश के तिरंगे का तिरस्कार करने वालों ने अगर ये नहीं किया होता तो शायद आज तिरंगे का ऐसा अपमान न होता। दूसरों को देशभक्ति का सर्टिफिकेट देने वालों को राष्ट्रगान का तौर-तरीका तक पता नहीं।

बता दें कि ध्वजारोहण के दौरान तिरंगे के गिरने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले साल 2016 में जम्मू कश्मीर की तत्कालीन मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी ऐसी घटना को लेकर शर्मिंदगी का शिकार हो चुकी हैं। महबूबा मुफ्ती जब स्वतंत्रता दिवस के दौरान तिरंगा फहराने की कोशिश कर रहीं थी, तभी तिरंगा पोस्ट से नीचे गिर गया।

Back to top button